माले के राज्‍य सचिव ने कहा- विधान परिषद चुनाव नहीं लड़ेगी पार्टी, महागठबंधन का करेंगे समर्थन

Bihar Politics भाकपा माले (CPI ML) के राज्य सचिव कुणाल ने सोमवार को बताया कि राज्य में निकाय कोटे से विधान परिषद की 24 सीटों पर होने वाले चुनाव में हमारी पार्टी उम्मीदवार नहीं खड़ा करेगी। इस चुनाव में राजग के खिलाफ महागठबंधन के उम्मीदवारों को माले पूरा समर्थन करेगी

Vyas ChandraPublish: Tue, 25 Jan 2022 08:52 AM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 08:52 AM (IST)
माले के राज्‍य सचिव ने कहा- विधान परिषद चुनाव नहीं लड़ेगी पार्टी, महागठबंधन का करेंगे समर्थन

राज्य ब्यूरो, पटना। Bihar Politics: भाकपा माले (CPI ML) के राज्य सचिव कुणाल ने सोमवार को बताया कि राज्य में निकाय कोटे से विधान परिषद की 24 सीटों पर होने वाले चुनाव में हमारी पार्टी उम्मीदवार नहीं खड़ा करेगी। इस चुनाव में राजग के खिलाफ महागठबंधन के उम्मीदवारों को माले पूरा समर्थन करेगी, लेकिन विधायक कोटे से विधान परिषद एवं राज्यसभा की कुछ सीटों पर होने वाले आगामी चुनाव में हमारी पार्टी भाग लेगी।

पंचायत चुनाव में संस्‍थाबद्ध भ्रष्‍टाचार 

उन्होंने कहा कि अभी हाल में चुनाव जीतकर आए पंचायत प्रतिनिधि इस निकाय कोटे के चुनाव में मतदाता होंगे, लेकिन हमने इस बार के पंचायत चुनाव में संस्थाबद्ध भ्रष्टाचार, बड़े पैमाने पर सीटों की खरीद-बिक्री और पूरे चुनाव को अराजनीतिकरण बना देने का खेल देखा। यह बहुत ही गंभीर मसला है। उन्होंने कहा कि मुखिया के बाद अब नगर निकायों के मेयर, उप मेयर केपदों पर सीधे चुनाव के जरिए इन संस्थाओं के भीतर लोकतंत्र को सीमित किया जा रहा है। हमें उम्मीद है कि चुनाव में महागठबंधन के प्रत्याशी पंचायतों के इस क्षरण को अपना प्रमुख एजेंडा बनाएंगे और चुनाव जीतने के बाद विधान परषिद के अंदर पंचायतों के अधिकारों व इसके भीतर लोकतंत्र में कटौती व नौकरशाही के बढ़ते दबदबे के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करेंगे।

सीटों को लेकर अभी राजग और महागठबंधन की तस्‍वीर स्‍पष्‍ट नहीं

बता दें कि बिहार में होने वाले विधान परिषद चुनाव को लेकर अभी तक न तो राजग और न ही महागठबंधन की ओर से स्‍पष्‍ट तौर पर सीटों का ऐलान किया गया है। लेकिन इस चुनाव को लेकर दोनों ओर आग बराबर लगी है। उधर राजद से कांग्रेस का तालमेल नहीं हो पा रहा। इधर जदयू-भाजपा के बीच सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है। यहां दो और दावेदार हम और वीआइपी हैं। ऐसे में आने वाले दिनेां में सियासत गर्म रहेगी। अब देखना है कि सीटों की शेयरिंग कैसे हो पाती है। 

Edited By Vyas Chandra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept