बिहार में शराब की सूचना देने वालों को इनाम देगी पप्‍पू यादव की पार्टी, मृतकों के परिवार को मुआवजे की मांग

Bihar Politics भाजपा और हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के नेता शराबबंदी पर लगातार सवाल उठा रहे हैं वहीं जदयू इस पर जरा भी पीछे हटने को तैयार नहीं है। इस बीच पप्‍पू यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी शराब के कारोबार की सूचना देने वालों को इनाम देगी।

Shubh Narayan PathakPublish: Tue, 18 Jan 2022 09:57 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 09:57 AM (IST)
बिहार में शराब की सूचना देने वालों को इनाम देगी पप्‍पू यादव की पार्टी, मृतकों के परिवार को मुआवजे की मांग

पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Politics: बिहार में करीब छह साल पहले लागू की गई शराबबंदी अब लगातार मौतों के कारण बड़ा राजनीतिक मसला बन गई है। पिछले कुछ महीनों के दौरान जहरीली शराब के सेवन से राज्‍य के रोहतास, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, समस्‍तीपुर, नालंदा सहित कई जिलों में बड़े पैमाने पर लोगों की मौतें हुई हैं। बिहार की सरकार में शामिल चार दलों में भी इस मसले पर सहमति नहीं है। भाजपा और हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के नेता शराबबंदी पर लगातार सवाल उठा रहे हैं, वहीं जदयू इस पर जरा भी पीछे हटने को तैयार नहीं है। इस बीच जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो पप्‍पू यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी शराब के कारोबार की सूचना देने वालों को इनाम देगी।

गरीब लोगों के लिए नासूर बनी शराबबंदी- पप्‍पू यादव

जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव ने जहरीली शराब से नालंदा में मौत, दुष्कर्म एवं माफिया को संरक्षण जैसे मुद्दे को लेकर सरकार व विपक्ष पर हमला बोला। कहा, शराबबंदी कानून गरीब लोगों के लिए नासूर बन गया है। पप्पू ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि शराबबंदी कानून में छह लाख से अधिक गिरफ्तारी हुई। उसमें कितने शराब बेचने वाले, अधिकारी और नेता हैं? माफिया को जबतक पक्ष-विपक्ष का संरक्षण मिलेगा, तबतक कैसे यहां शराबबंदी लागू हो सकती है।

सर्वदलीय बैठक बुलाने की जताई आवश्‍यकता

पप्पू ने कहा कि सरकार अब कितनी मौत के बाद शराब निषेध कानून पर कब पुर्नविचार करेगी? कानून की समीक्षा के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाने की आवश्यकता है? बोले, शराब कारोबार की फोटो और वीडियो के साथ खबर देने वाले को पार्टी 25 हजार का इनाम देगी। उन्होंने कहा कि कर्पूरी ठाकुर की जयंती के मौके पर 24 जनवरी को जाप जहरीली शराब के खिलाफ तथा जहरीली शराब से मृतकों के स्वजनों को पांच लाख मुआवजा दिलाने के लिए धरना देगी।

Koo App
पूर्वी चम्पारण ज़िला के रामगढ़वा मे बीते दिन अपराधियों ने (24) वर्षीय युवा व्यवसायी अजीत कुमार जी की हत्या गोली मारकर कर दी थी। आज हम अजीत कुमार के शोकाकुल परिजनों से मिले और अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की। सभी का रो रो के बुरा हाल है। परिवार के सभी सदस्यों और यहां के स्थानीय लोगों से मुलाकात का घटना की पूरी जानकारी ली। हम सरकार से मांग करते हैं कि इस परिवार को सरकार के तरफ से 20 लाख का मुआवजा मिले और - Rajesh Ranjan@Pappu Yadav (@pappuyadavjapl) 18 Jan 2022

Edited By Shubh Narayan Pathak

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept