पीएम नरेंद्र मोदी की बैठक के बाद बदली रणनीति, बिहार में आज संभलकर बाहर निकलें

देश में कोरोना के बेतहाशा बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उच्‍च स्‍तरीय समीक्षा बैठक का असर दिखेगा। वे जल्‍द ही मुख्‍यमंत्रियों के साथ भी बैठक कर सकते हैं। इससे पहले बिहार में पाबंदियों को सख्‍ती से लागू करने पर काम शुरू कर दिया गया है।

Shubh Narayan PathakPublish: Sun, 09 Jan 2022 10:18 AM (IST)Updated: Mon, 10 Jan 2022 09:04 AM (IST)
पीएम नरेंद्र मोदी की बैठक के बाद बदली रणनीति, बिहार में आज संभलकर बाहर निकलें

पटना, जागरण टीम। देश में कोरोना के बेतहाशा बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जल्‍द ही सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ बैठक कर सकते हैं। बैठक में कोई बड़ा फैसला होने की उम्‍मीद भी जताई जा रही है। उन्‍होंने रविवार को अधिकारियों के साथ एक बड़ी बैठक की थी। इधर, बिहार में पाबंदियों को सख्‍ती से लागू करने पर काम शुरू कर दिया गया है। बिहार में कोविड की मौजूदा गाइडलाइन यूं तो 21 जनवरी तक लागू है, लेकिन जरूरत पड़ने पर इसमें समय से पहले भी बदलाव किया सकता है। ऐसे दो बड़े बदलाव तो कुछ दिन पहले ही किए गए हैं। प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) की बैठक से भी यह चीज काफी हद तक तय होगी। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने राज्‍य में मौजूदा पाबंदियों को सख्‍ती से लागू करने का निर्देश अधिकारियों को दिया है।

यह भी पढ़ें: मुकेश सहनी कब तक रहेंगे बिहार सरकार में मंत्री? भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष ने दिया बेबाक जवाब

तीसरी लहर को थामने के लिए कड़ाई

कोरोना की तीसरी लहर के तेजी से प्रसार को रोकने के लिए राज्य भर में नाइट कर्फ्यू के साथ कई पाबंदियां लगाई गई हैं। नई गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन कराने को लेकर रविवार को राज्य भर में विशेष अभियान चलेगा। इस बाबत मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने शनिवार को सभी जिलाधिकारियों, वरीय पुलिस अधीक्षकों व पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखकर निर्देशित किया है। इसके बाद गृह विभाग (विशेष शाखा) ने अभियान को लेकर विस्तृत निर्देश जारी किए हैं।

दुकानों और वाहनों पर रहेगा विशेष ध्‍यान

रविवार को विशेष अभियान के अंतर्गत सभी जिलों में सड़कों, दुकानों, वाहनों, अस्पतालों, पुलिस लाइनों एवं जेलों में कोविड अनुकूल व्यवहार की जांच होगी। विशेषकर देखा जाएगा कि मास्क पहना जा रहा है या नहीं। शारीरिक दूरी का अनुपालन किया जा रहा है या नहीं। जांच के दौरान सख्ती से इसका अनुपालन तो कराया ही जाएगा, इसके प्रति लोगों को जागरूक भी किया जाएगा।

विशेष दल का होगा गठन

गृह विभाग ने विशेष जांच अभियान को लेकर सभी जिलों के डीएम, एसपी को स्वयं अथवा अपने अधीनस्थ पदाधिकारियों का दल गठित कर इसे कठोरता से अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है। नए निर्देश के अनुपालन को लेकर सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, विभागाध्यक्ष, प्रमंडलीय आयुक्त, रेंज आइजी व डीआइजी आदि को भी पत्र की प्रतिलिपि भेजी गई है।

बस-आटो में चला मास्क जांच अभियान, 223 पर कार्रवाई

कोविड प्रोटोकाल का पालन कराने को लेकर राज्य में शनिवार को सार्वजनिक परिवहन के वाहनों में विशेष जांच अभियान चलाया गया। बस एवं ऑटो स्टैंड में यात्रियों के फेस मास्क लगाने एवं शारीरिक दूरी के अनुपालन की जांच की गई। इस दौरान कुल 565 वाहनों की जांच की गई, जिसमें नियमों का उल्लंघन करने वाले 223 विभिन्न वाहनचालकों पर जुर्माना लगाया गया। वहीं 17 वाहनों को जब्त किया गया।

सार्वजनिक वाहनों में चलेगा अभियान

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए सार्वजनिक वाहनों में विशेष मास्क एवं ओवरलोडिंग जांच अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल बस एवं ऑटो में 100 प्रतिशत क्षमता के साथ परिचालन का प्रावधान है, मगर क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाने पर संबंधित वाहन चालक पर कार्रवाई की जाएगी।

लगातार चलेगा जांच अभियान

मास्क लगाने और ओवरलोडिंग के विरुद्ध लगातार सघन जांच अभियान चलाया जाएगा। परिवहन विभाग ने सभी जिलों के डीएम को निर्देश दिया है कि ओवरलोडिंग पर कड़ाई से कार्रवाई करें। ओवरलोडिंग वाहनों की जांच एवं कार्रवाई के लिए जिला परिवहन पदाधिकारी व मोटरयान निरीक्षकों को विशेष निर्देश दिया गया है।

Edited By Shubh Narayan Pathak

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept