This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कांग्रेस ने बिहार में अपने सभी कार्यालय किए बंद, प्रदेश अध्यक्ष बोले-स्थिति विकराल

Bihar Politics कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने एक आदेश जारी करते हुए राज्य मुख्यालय सदाकत आश्रम सहित पूरे राज्य के जिला कार्यालय बंद करा दिए हैं। कार्यालय अनिश्चितकाल के लिए बंद किए गए हैं। यह निर्णय राज्य में बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए लिया गया है।

Akshay PandeyFri, 16 Apr 2021 04:16 PM (IST)
कांग्रेस ने बिहार में अपने सभी कार्यालय किए बंद, प्रदेश अध्यक्ष बोले-स्थिति विकराल

राज्य ब्यूरो, पटना: बिहार में कोरोना संक्रमण को देखते हुए बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने एक आदेश जारी करते हुए राज्य मुख्यालय सदाकत आश्रम सहित पूरे राज्य के जिला कार्यालय बंद करा दिए हैं। कार्यालय अनिश्चितकाल के लिए बंद किए गए हैं। डॉ. झा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में सरकारी उदासीनता और प्रशासनिक विफलताओं के कारण स्थिति बेहद विकराल हो गई है।

केवल आवासीय कर्मचारियों के ही रहने की अनुमति

बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि प्रदेश में जब तक स्थितियां सामान्य नहीं होंगी, तब तक कांग्रेस के प्रदेश से लेकर जिला मुख्यालयों को अनिश्चितकाल तक बन्द करने का फैसला लिया गया है। सदाकत आश्रम में केवल आवासीय कर्मचारियों के ही रहने की अनुमति रहेगी। बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी कोरोना की भयावह एवं घातक परिस्थिति को समझ रही है और सरकार की अकर्मण्यता को देखते हुए उसने ये फैसला लिया है। साथ ही आम जनता से अपील की है कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप में अपने और परिवार की सुरक्षा का विशेष ख्याल रखें।

कांग्रेस नीतीश सरकार पर हमलावर

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी बिहार में कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर नीतीश कुमार सरकार पर लगातार हमलावर हो रही है। कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत शर्मा ने एक दिन पहले कहा था कि पटना के साथ ही बिहार के तमान अस्पताल ऑक्सीजन और बेड की कमी से जूझ रहे हैं। कोरोना पॉजिटिव मरीज भगवान भरोसे अपनी जान की खैर मना रहे हैं। अजीत शर्मा ने कहा कि राज्य की भाजपा-जदयू सरकार के मुखिया नीतीश कुमार को इससे फर्क नहीं पड़ता। बिहार में अघोषित इमरजेंसी के हालात हैं। मीडिया तक से सच्चाई छिपाई जा रही है। सरकार इस महामारी को रोकने में पूरी तरह विफल रही है। जनता के सुख-दुख से सरकार का कोई सरोकार नहीं है।

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!