This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Bihar: सीएम नीतीश कुमार के पुराने मित्र नरेंद्र ने लगाई गुहार, मेरे गांव का स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र है बदहाल

बिहार के सीएम नीतीश कुमार के इंजीनियरिंग कॉलेज से ही रहे पुराने मित्र नरेंद्र कुमार सिंह ने उनसे गुहार लगाई है। कहा है कि मेरे गांव का उप स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र खंडहर बन चुका है। इसे कोविड की तीसरी लहर के पहले ऑक्‍सीजन और वेंटिलेटर युक्‍त सुविधाओं साथ शुरू करवाएं ।

Sumita JaiswalThu, 27 May 2021 11:38 AM (IST)
Bihar: सीएम नीतीश कुमार के पुराने मित्र नरेंद्र ने लगाई गुहार, मेरे गांव का स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र है बदहाल

पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। बिहार के सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के इंजीनियरिंग कॉलेज के जमाने के पुराने मित्र नरेंद्र कुमार सिंह (Old friend Narendra Kumar Singh) ने उनसे गुहार लगाई है। दरअसल, नरेंद्र कुमार सिंह बिहार के सहरसा जिले के महि‍षी प्रखंड के मैना गांव (Maina Village of Mahishi block in Saharsa district of Bihar ) में रहते हैं। उनके गांव का उप स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र बेहद खस्‍ताहाल में है। उन्‍होंने नीतीश कुमार से गुहार लगाई है कि वे स्‍वयं पहल करें और उनके गांव के उप स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र को कोविड-19 की तीसरी लहर के पहले शुरू करवाएं। जिससे उनके गांव के लोगों को समय पर उचित स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं मिल सके।

 नरेंद्र सिंह ने कहीं यह बात

कोविड-19 की तीसरी लहर को लेकर ग्रामीणों क्षेत्रों में जिस प्रकार की चिकित्‍सीय तैयारी की आवश्यकता है, वो नहीं दिख रही है। डाॅक्टर और नर्स का बहुत अभाव है । प्रखंड स्तर के सीएचसी जाकर दवा करवाना सभी के लिए संभव नहीं है। गांव में हार्ट और ब्लडप्रेशर के अतिरिक्त अन्य गंभीर बीमारीयों के मरीज हैं, जिनकी सुविधा के लिए ही उप स्वास्थ्य केन्द्र खोले गए थे। लेकिन वो खुलता तक नहीं है। पिछले पांच-छह सालों से तो इसकी हालत बदतर होती जा रही है। मेरे गांव मैना में 70 वर्ष पुराना उप स्वास्थ्य केंद्र है। पहले इसमें कम से कम नर्स रहा करती थीं। लेकिन, अब वो भी नहीं आती है। बहुत संभव है कि तो इसमें नर्स की प्रतिनियुक्ति नहीं की गई या फिर नर्स घर पर रह कर वेतन उठाव कर रही है। यहां नियुक्‍त कर्मियों के रहने की कोई व्‍यवस्‍था नहीं है। उपस्वास्थ्य केंद्र खंडहर में तब्‍दील हो गया है, ताला तक नहीं खुल रहा है। भवन का मेंटेनेंस नहीं करवाया जा रहा है।

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!