पूर्व विधायक का बिहार कांग्रेस को लेकर बड़ा दावा- पार्टी में बेचे जाते टिकट, नीतीश के साथ जाएंगे प्रदेश अध्यक्ष

बिहार विधानसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस में आंतरिक कलह गहरा गया है। पूर्व विधायक भरत सिंह ने प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्‍होंने कहा है कि उनकी शिकायत के आधार पर आलाकमान कार्रवाई शुरू कर चुका है।

Amit AlokPublish: Sun, 10 Jan 2021 01:54 PM (IST)Updated: Mon, 11 Jan 2021 11:09 AM (IST)
पूर्व विधायक का बिहार कांग्रेस को लेकर बड़ा दावा- पार्टी में बेचे जाते टिकट, नीतीश के साथ जाएंगे प्रदेश अध्यक्ष

पटना, बिहार ऑनलाइन डेस्‍क। बिहार कांग्रेस में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) में हार के बाद पार्टी में आंतरिक कलह एवं आरोप-प्रत्यारोप लगातार जारी हैं। हाल ही में कांग्रेस के पूर्व विधायक भरत सिंह (Ex Congress MLA Bharat Singh) ने पार्टी के 11 विधायकों के टूटने का दावा किया था। उन्‍होंने फिर कहा है कि प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा (Madan Mohan Jha) विधायकों को तोड़कर जनता दल यूनाइटेड (JDU) में जाना चाहते हैं। यह भी दावा किया कि जल्दी ही मदन मोहन झा की कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के पद से छुट्टी होने वाली है।

आलाकमान से शिकायत के बाद शुरू हुई कार्रवाई

कांग्रेस नेता भरत सिंह के अनुसार उन्‍होंने ही विधायकों की संभावित टूट की शिकायत आलाकमान से की थी। इसके बाद आलाकमान ने कार्रवाई की। शक्ति सिंह गोहिल को बिहार प्रदेश प्रभारी के पद से हटा दिया गया। भरत सिंह के अनुसार शक्ति सिंह गोहिल ने हार के कारणों की जिम्मेवारी लेने के बदले स्वास्थ्य कारणों से पद छोड़ने का बहाना बनाया, लेकिन अगर वे बीमार हैं तो उन्‍होंने अन्य राज्यों के प्रभारी पद से इस्‍तीफा क्‍यों नहीं दिया?

कांग्रेस के नए प्रभारी को देंगे गड़बड़ियों की जानकारी

भरत सिंह ने आगे कहा कि वे बिहार कांग्रेस के नए प्रभारी भक्त चरण दास के दो दिनों के भीतर बिहार आने पर उन्‍हें पार्टी की गड़बड़ियों से अवगत कराएंगे। बिहार में कांग्रेस खरीद-बिक्री की पार्टी बन कर रह गई है। यहां लोकसभा से लेकर विधानसभा तक के टिकट बेचे जाते हैं। पार्टी के तीन पूर्व अध्यक्ष अपने लोगों के साथ दूसरे दलों में जा चुके हैं। वर्तमान प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा भी इसी राह पर जाने वाले हैं। भरत हसंह ने कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा, के अलावा अखिलेश सिंह व सदानंद सिंह को भी हार का जिम्‍मेदार बताया।

टिकट की खरीद काे ले ऑडियो पहले हो चुका वायरल

विदित हो कि कुछ समय पहले बक्सर के राजपुर क्षेत्र के विधायक को लेकर एक ऑडियो वायरल (Audio Viral) हुआ था, जिसमें विधायक विश्वनाथ राम द्वारा कांग्रेस का टिकट लेने के लिए 12 लाख रुपये देने का दावा किया गया था। हालांकि, विधायक ने इससे इनकार किया था। ऑडियो बक्‍सर के कांग्रेस नेता कुमार विजय और खुद को विधायक का करीबी बताने वाले अखिलेश सिंह मुखिया की बातचीत का था। हम उस ऑडियो की पुष्टि नहीं करते, कांग्रेस के पूर्व विधायक के दावे के बाद यह बता रहे हैं कि ऐसी चर्चा पहले भी हो चुकी है।

Edited By Amit Alok

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept