This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बीएड कोर्स में नामांकन के लिए काउंसलिंग शुरू, इन कागजों को छात्र रखें अपने साथ

पटना में बीएड काउंसलिंग शुरू हो गई है। राजधानी के गांधी मैदान और ज्ञान भवन में बुधवार से छात्रों का जुटान हो रहा है।

Akshay PandeyWed, 17 Apr 2019 12:23 PM (IST)
बीएड कोर्स में नामांकन के लिए काउंसलिंग शुरू, इन कागजों को छात्र रखें अपने साथ

पटना, जेएनएन। राज्य के विभिन्न कॉलेजों में बीएड कोर्स में नामांकन के लिए आज से काउंसलिंग शुरू हो गई है। पटना के ज्ञान भवन और गांधी मैदान में छात्र जुट गए हैं। बीएडसीईटी की नोडल एजेंसी नालंदा खुला विश्वविद्यालय ने मंगलवार को वेबसाइट (biharcetbed.com) पर काउंसलिंग का शिड्यूल जारी कर दिया है। काउंसिलिंग की प्रक्रिया 30 अप्रैल को पूरी कर ली जाएगी।

राज्य नोडल पदाधिकारी डॉ. एसपी सिन्हा ने बताया कि हर दिन दो शिफ्ट में काउंसलिंग होगी। 30 अप्रैल को द्वितीय शिफ्ट में 1228 अभ्यर्थियों की काउंसलिंग होगी। इसके अतिरिक्ति सभी शिफ्ट में 1800 अभ्यर्थी शामिल होंगे। प्रथम चरण में कुल 35,428 अभ्यर्थी काउंसलिंग में शामिल होंगे। प्रथम शिफ्ट सुबह 10:30 से दोपहर 1:30 बजे तथा दूसरा शिफ्ट दोपहर 2:30 से शाम 6:00 बजे तक होगी। उन्होंने बताया कि किसी तरह की फर्जीवाड़ा करने पर अभ्यर्थी के ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी बेवसाइट पर कर दी गई है अपलोड

काउंसलिंग में क्या लेकर आना है। इसकी जानकारी वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। जिन क्वालीफाई अभ्यर्थियों ने काउंसलिंग शुल्क जमा नहीं किया है। वह इसमें भाग नहीं ले सकेंगे। जो काउंसलिंग शुल्क जमा किए हैं, लेकिन उन्हें कॉलेज आवंटित नहीं हो सकता है, वह भी प्रथम काउंसलिंग में शामिल नहीं होंगे।

काउंसलिंग तिथि   प्रथम शिफ्ट           द्वितीय शिफ्ट

17 अप्रैल          500001-503663     503665-507497

19 अप्रैल          507500-511059     511063-514789

20 अप्रैल          514790-518360     518361-522311

22 अप्रैल          522314-525808     525824-529860

24 अप्रैल          529861-533438     533440-536835

25 अप्रैल          536836-543033     543034-547959

26 अप्रैल          547960-552188     552190-556714

27 अप्रैल          556718-563046     563048-569147

28 अप्रैल          569148-574768     574770-581268

30 अप्रैल          581269-585453     585454-589705

शिक्षक कोटे के लाभ के लिए देना होगा प्रमाण पत्र

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य के विभिन्न सरकारी स्कूलों में तैनात 1467 अभ्यर्थियों को काउंसलिंग में एससीईआरटी द्वारा जारी प्रमाणपत्र सबमिट करना होगा। इसके अभाव में उन्हें इस कोटे का लाभ नहीं दिया जाएगा। राज्य नोडल पदाधिकारी ने बताया कि 157 अभ्यर्थी ऐसे हैं जो शिक्षक कोटे से आवेदन किए हैं, लेकिन एससीईआरटी द्वारा जारी प्रमाण पत्र आवेदन के साथ अटैच नहीं किए हैं। यदि वह प्रमाण पत्र जमा करने में असमर्थ होते हैं तो उन्हें काउंसलिंग से वंचित होना होगा।

सुप्रीम कोर्ट का आदेश वेबसाइट पर अपलोड

राज्य नोडल पदाधिकारी ने बताया कि राज्य के सभी अल्पसंख्यक बीएड कॉलेजों में नामांकन बीएडसीईटी की काउंसलिंग के आधार पर होगा। यदि कोई कॉलेज अपने स्तर से काउंसलिंग कर नामांकन लेते हैं तो वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना करेंगे। उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले की कॉपी वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। संत जेवियर कॉलेज ऑफ एजुकेशन और पटना वीमेंस कॉलेज ने काउंसलिंग के लिए अलग से शिड्यूल जारी किया था।

छात्र-छात्राएं इन कागजात के साथ पहुंचे

डॉ. एसपी सिन्हा ने बताया कि काउंसलिंग के दौरान अभ्यर्थियों को अपने साथ सीईटीबीएड-2019 का प्रवेश पत्र, अंक पत्र, एक पासपोर्ट साइज कलर फोटो, काउंसलिंग शुल्क की रसीद, मैटिक, इंटर व स्नातक का मूल अंक पत्र और मूल या औपबंधिक प्रमाणपत्र, आरक्षित श्रेणी के लाभ के लिए संबंधित जाति का प्रमाणपत्र, अद्यतन प्रमाण पत्र, अद्यतन आवासीय प्रमाण पत्र, सैनिक कर्मचारी कोटा के लाभ के लिए संबंधित का प्रमाण पत्र तथा दिव्यांग कोटे के लाभ के लिए दिव्यांगता प्रमाण पत्र की मूल व फोटो कॉपी लाना अनिवार्य है। इसके अभाव में काउंसलिंग से वंचित भी हो सकते हैं।

Edited By: Akshay Pandey

पटना में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!