बिहार में फिर ट्रैक पर उतरे अभ्यर्थी, तोडफोड़-आगजनी व फायरिंग के बीच रेल सेवा चरमराई

RRB NTPC Result Updateरेलवे की ग्रुप डी परीक्षा के पैटर्न में बदवाल के विरोध में आक्रोशित छात्रों ने बिहार में जगह-जगह हंगामा किया। उन्‍होंने बक्‍सर में रेल मार्ग जाम किया तो नवादा में स्‍टेशन पर पथराव किया और ट्रैक के क्लिप उखाड़ लिए।

Vyas ChandraPublish: Tue, 25 Jan 2022 10:37 AM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 02:22 PM (IST)
बिहार में फिर ट्रैक पर उतरे अभ्यर्थी, तोडफोड़-आगजनी व फायरिंग के बीच रेल सेवा चरमराई

जागरण टीम, पटनाः रेलवे भर्ती बोर्ड की नन टेक्निकल पापुलर कैटेगरी (एनटीपीसी) परीक्षा में अनियमितता का आरोप लगाकर बिहार में अभ्यर्थियों और उनके समर्थकों का विरोध प्रदर्शन मंगलवार को और उग्र्र हो गया। दूसरे दिन सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, नवादा, बिहारशरीफ, आरा, बक्सर एवं भभुआ में उनके उपद्रव से ट्रेन परिचालन प्रभावित हुआ और रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचा। पटना, समस्तीपुर और छपरा में भी विरोध प्रदर्शन किए गए। सीतामढ़ी में तोडफ़ोड़ और पथराव कर रही भीड़ को पुलिस ने हवाई फायरिंग कर हटाया। नवादा में सर्वाधिक नुकसान की खबर है। 

नवादा में पथराव और तोडफ़ोड़, जेनरेटर फूंका 

नवादा में अभ्यर्थियों में शामिल कुछ उपद्रवियों ने किउल-गया रेलखंड के नवादा स्टेशन पर पथराव व तोडफ़ोड़ किया। करीब दो किमी तक रेल पटरी के पैैंड्रोल क्लिप को खोल दिया। इससे किउल-गया रेलखंड पर रेल परिचालन ठप है। ट्रैक मरम्मत के लिए खड़ी डायानमिक टेपिंग मशीन की बैट्री भी चोरी कर ली गई और जेनरेटर को फूंक दिया गया। आउटर सिग्नल व रेल फाटक को तोड़ दिया गया है। वहां पहुंची दमकल व रेल थाने की पुलिस पर भी पथराव किया गया। पांच घंटे से ज्यादा देर तक बवाल चला। जिला और रेल पुलिस के कुछ जवान पथराव में घायल हुए हैं। वहीं अभ्यर्थियों की भीड़ ने सीतामढ़ी में पुलिस से झड़प के बाद पथराव किया। इसमें कई उपद्रवी, पुलिसकर्मी व डुमरा सीओ जख्मी हो गए। यहां पुलिस ने स्थिति नियंत्रित करने को हवाई फायरिंग की। आंदोलन करने वालों के रेलवे लाइन पर बैठने की वजह से कई ट्रेनें प्रभावित हुईं। नवादा में दर्जनभर लोगों को हिरासत में लिया गया है। अधिकारी स्थिति को काबू करने में लगे रहे। मुजफ्फरपुर आरपीएफ ने तीन लोगों को नामजद करते हुए 200 अज्ञात के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई है। वहीं भगवानपुर में 100 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज की गई। 

पटना में गाड़ियों में तोडफ़ोड़ 

पटना के भिखना पहाड़ी में दोपहर के बाद अभ्यर्थियों ने सड़क जाम किया। पुलिस के रोकने पर उपद्रवियों ने हंगामा किया और गाड़ियों में तोडफोड़ की। देर शाम तक बवाल जारी रहा। उधर, आरा में रेलवे स्टेशन के पश्चिमी छोर पर मंगलवार को मालगाड़ी ट्रेन को रोक कर तीन घंटे तक छात्रों ने बवाल काटा। देर शाम इंटरसिटी ट्रेन की महिला बोगी में आग लगा दी। अपराह्न करीब दो बजे से ही आक्रोशित परीक्षार्थी रेलवे ट्रैक पर उतर कर हंगामा कर रहे थे। पटना-डीडीयू रेलखंड पर रेलवे परिचालन पूरी तरह बाधित हो गया। शाम करीब साढ़े चार बजे समझाने के दौरान पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया गया। उपद्रवियों ने मालगाड़ी के इंजन को पूरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया। स्थिति बिगड़ती देख पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, जिसके बाद भगदड़ मच गई। छात्रों ने रेलवे ट्रैक पर स्लीपर भी रख दिया था। बक्सर में दो ट्रेनें रोकी गई। अलग-अलग स्टेशनों पर भी कई ट्रेनें खड़ी हो गईं हैं। श्रमजीवी तथा दानापुर सिकंदराबाद एक्सप्रेस को सासाराम के रास्ते निकाला गया, जबकि हावड़ा-दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस को गया-डीडीयू के रास्ते बढ़ाया गया। पटना-कोटा एक्सप्रेस को छपरा ग्रामीण-वाराणसी के रास्ते तथा मधुपुर हमसफर एक्सप्रेस को भी गया रूट से निकाला गया। मंगलवार की दोपहर 12.06 बजे से शाम 4.29 बजे तक आरा से डीडीयू जंक्शन तक परिचालन बाधित रहा। 

बिहारशरीफ में सुबह ही शुरू हो गया हंगामा 

बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन पर मंगलवार की सुबह सात बजे से बड़ी संख्या में पहुंचे अभ्यर्थियों ने खूब हंगामा किया। रेलवे ट्रैक पर पोल रख दिया। दो घंटे की मशक्कत के बाद छात्र मानें। छपरा में छपरा-थावे रेलखंड पर मशरक के राजापट्टी रेलवे फाटक पर प्रदर्शन किया। स्टेट हाईवे जाम होने से करीब पांच घंटे तक आवागमन बाधित रहा। समस्तीपुर में अभाविप व जनवादी नौजवान सभा के कार्यकर्ताओं ने विरोध मार्च निकाला। मुजफ्फरपुर जंक्शन पर भी छात्रों ने हंगामा किया। बरौनी-गोंदिया एक्सप्रेस को डेढ़ घंटे तक रोका और नारेबाजी की। भगवानपुर में भी 13019 बाघ एक्सप्रेस को आधे घंटे तक रोका और ट्रैक पर प्रदर्शन किया गया।

Edited By Vyas Chandra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept