रास्ते से भैंस हटाने को कहा तो जमकर चलीं लाठियां, छह लोग हुए घायल

नवादा। थाना क्षेत्र के फरका बुजुर्ग पंचायत के पहवा चक गांव में गुरुवार को दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चली। घटना में छह लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। तीन को चिताजनक हाल में सदर अस्पताल नवादा रेफर किया गया है। रास्ते से भैंस हटाने के विवाद में घटना हुई।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 12:34 AM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 12:34 AM (IST)
रास्ते से भैंस हटाने को कहा तो जमकर चलीं लाठियां, छह लोग हुए घायल

नवादा। थाना क्षेत्र के फरका बुजुर्ग पंचायत के पहवा चक गांव में गुरुवार को दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चली। घटना में छह लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। तीन को चिताजनक हाल में सदर अस्पताल नवादा रेफर किया गया है। रास्ते से भैंस हटाने के विवाद में घटना हुई।

बताया जाता है कि रास्ते में बंधी भैंस को हटाने के लिए कहा गया तो रामशरण यादव और राजेंद्र प्रसाद के बीच तू तू मैं मैं शुरू हो गई। देखते ही देखते दोनों ओर से लाठियां चलने लगी। 10 मिनट के अंदर गांव की गलियां खून से लाल हो गई। आधा दर्जन लोग लहूलुहान हो गए। बीच-बचाव करने पहुंचे ग्रामीणों ने सभी घायलों को उठाकर अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डाक्टर धीरेंद्र कुमार, डाक्टर श्याम नंदन प्रसाद ने सभी का प्राथमिक उपचार किया। एक पक्ष के सुबोध यादव, रामशरण यादव और संटू यादव की स्थिति काफी चिताजनक थी, जिसे डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल नवादा रेफर कर दिया। वहीं दूसरे पक्ष के राजेंद्र प्रसाद, सुनीता देवी और सागर प्रसाद का इलाज अनुमंडल अस्पताल में ही किया जा रहा था।

घायल संटू यादव ने बताया कि घर से निकलने के बाद सड़क पार करने के लिए उसी रास्ते से गुजरना पड़ता है जहां राजेंद्र प्रसाद द्वारा भैंस बांध दिया जाता है। भैंस आने-जाने वालों को मारने का प्रयास करती है। इसीलिए हमारे पिता रामशरण यादव ने भैंस हटाने के लिए कहा तो राजेंद्र प्रसाद का पूरा परिवार लाठी लेकर मारना शुरू कर दिया। बीच-बचाव करने हम और हमारे भाई पहुंचे तो हम लोगों के साथ थी मारपीट की है।

बताते चलें कि राजेंद्र प्रसाद और रामशरण यादव दोनों आपस में चचेरे भाई हैं। घटना की जानकारी मिलते ही अपर थानाध्यक्ष विधि व्यवस्था कमलेश कुमार, एएसआइ सुनील कुमार सिंह पुलिस बल के साथ गांव पहुंचे और मामले की जांच-पड़ताल की। उसके बाद अस्पताल पहुंचकर घायलों से घटना के बारे में जानकारी ली। थानाध्यक्ष दरबारी चौधरी ने बताया कि घटनास्थल और अस्पताल में पुलिस बल को भेजा गया है। बेहतर इलाज के लिए तीन लोगों को रेफर किया गया है। लिखित आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज कर दोषियों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। प्रथम ²ष्टया में यह बात सामने आई है, कि रास्ते पर जानवर बंधा होने के विवाद में हिसक झड़प हुई।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept