हिसुआ और नरहट की 16 पंचायतों में बदल गई सरकार

नवादा। नौवें चरण के तहत जिले के हिसुआ व नरहट प्रखंड की वोटों की गिनती कराई गई। बुधवार को केएलएस कालेज में सुबह आठ बजे गिनती शुरू हुई। अन्य चरणों की तरह इस चरण में भी अधिकांश पंचायतों में गांव की सरकार बदल गई।

JagranPublish: Wed, 01 Dec 2021 10:49 PM (IST)Updated: Wed, 01 Dec 2021 10:49 PM (IST)
हिसुआ और नरहट की 16 पंचायतों में बदल गई सरकार

नवादा। नौवें चरण के तहत जिले के हिसुआ व नरहट प्रखंड की वोटों की गिनती कराई गई। बुधवार को केएलएस कालेज में सुबह आठ बजे गिनती शुरू हुई। अन्य चरणों की तरह इस चरण में भी अधिकांश पंचायतों में गांव की सरकार बदल गई। दोनों प्रखंडों की 20 में 16 पंचायतों में नए चेहरों पर वोटरों ने भरोसा जताया। दोनों प्रखंडों की दो-दो पंचायतों में निवर्तमान मुखिया जनता के भरोसे पर खरे उतरे। हिसुआ प्रखंड में छतिहर व पचाढ़ा तथा नरहट प्रखंड में जमुआरा व सैदापुर गोवासा पंचायत की मुखिया अपनी कुर्सी बचाने में कामयाब हुए। जिला परिषद पदों की बात करें तो तीन में दो सीटों पर नए चेहरे ने कब्जा जमाया। हिसुआ पूर्वी सीट पर रणजीत कुमार पुन: जनता के भरोसे पर खरे उतरे। गौरतलब है कि जिले में अबतक की मतगणना में अधिकांश सीटों पर नए चेहरों को ही लोग मौका दिए हैं। कड़ी सुरक्षा के बीच हुई वोटों की गिनती

- केएलएस कालेज में कड़ी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती कराई गई। मतगणना केंद्र के अंदर व बाहर पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी व जवानों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। जिला निर्वाची पदाधिकारी यश पाल मीणा ने मतगणना कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने स्वच्छ व पारदर्शी तरीके से मतगणना को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। वहीं सदर एसडीएम उमेश कुमार भारती विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर सक्रिय दिखे। पचाढ़ा मुखिया ने लगाई हैट्रिक

- बदलाव की बयार के बीच हिसुआ प्रखंड के पचाढ़ा पंचायत की मुखिया रामानंद प्रसाद सिंह ने जीत की हैट्रिक लगाई। वे लगातार तीसरी बार निर्वाचित हुए। क्षेत्र के वोटरों ने उन्हें एकबार फिर काम करने का मौका दिया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept