मधुबनी जिले में पुरानी रंजिश को लेकर हिंसक झड़प, फायरिंग में 13 लोग घायल

Madhubani news गंभीर रूप से जख्मी चार डीएमसीएच रेफर अन्य घायलों का सदर अस्पताल में चल रहा इलाज चार साल पहले बहिष्कृत परिवार के गांव वापस आने पर बिगड़ा माहौल गांव में पुलिस कर रही कैंप स्थिति नियंत्रण में।

Dharmendra Kumar SinghPublish: Wed, 26 Jan 2022 08:42 PM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 08:42 PM (IST)
मधुबनी जिले में पुरानी रंजिश को लेकर हिंसक झड़प, फायरिंग में 13 लोग घायल

मधुबनी (राजनगर), जासं। राजनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत पिलखबार गांव स्थित महाराजी पोखर परिसर में बुधवार को पुराने विवाद ने हिंसक झड़प का रूप ले लिया। झ़ड़प में 13 लोग घायल हुए हैं जिसमें दो लोगों को गोली लगने की बात कही जा रही है। हालांकि, पुलिस एक व्यक्ति को गोली लगने की पुष्टि कर रहा है| गंभीर रूप में जख्मी चार लोगों को सदर अस्पताल से डीएमसीएच रेफर किया गया है। शेष नौ लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है| सूचना मिलते ही डीएसपी सदर राजीव कुमार, राजनगर सीओ महेंद्र प्रसाद, खजौली इंस्पेक्टर राजदेव राम, राजनगर थानाध्यक्ष अमृत कुमार साह, खजौली थानाध्यक्ष अजीत कुमार सिंह, रहिका थानाध्यक्ष तथा राजनगर थाना के पुअनि आदित्यनाथ सिंह व सअनि रामप्रीत पासवान सहित सशस्त्र बल मौके पर पहुंचे। हालात गंभीर देख त्वरित कार्रवाई बल (क्यूआरटी) को भी घटनास्थल पर बुला लिया गया| घटना को लेकर पिलखबार गांव में पूरे दिन माहौल तनावपूर्ण बना रहा। घटना को लेकर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

मिट्टी भराने को लेकर हुआ विवाद 

प्रथम पक्ष के दिनेश कुमार यादव ने बताया कि उनके परिवार के सभी सदस्य गांव में वर्ष 2017 में घटित एक घटना के बाद से साढ़े चार वर्षों से अपने गांव (पिलखबार) से बाहर रह रहे हैं| मां अमेरिका देवी के श्राद्ध कर्म के लिए 18 जनवरी को गांव आए और संस्कृत मध्य विद्यालय पिलखबार में शरण ले ली| बुधवार को श्राद्ध कर्म होना था और श्राद्ध कर्म के बाद वे लोग वहां से वापस चले जाते। परिस्थितिवश, कुछ ही दूरी पर स्थित अपनी जमीन पर मिट्टी भरवा रहे थे| इसी दौरान बुधवार की सुबह करीब 10 बजे दूसरे पक्ष के लोगों ने हरबे-हथियार के साथ उनलोगों पर हमला कर दिया। गोली भी चलाई गई, 13 लोग घायल हो गए|

चार साल पूर्व गांव से बहिष्कृत हुआ था परिवार 

वहीं, दूसरे पक्ष के ग्रामीणों ने बताया कि करीब साढ़े चार वर्ष पूर्व पानी बहाने के सवाल पर प्रथम पक्ष के लोगों ने दानीलाल यादव के पुत्र चंदन कुमार यादव की हत्या कर दी थी| जिसके बाद ग्रामीणों ने उस परिवार को गांव से बहिष्कृत कर दिया था| एक बार फिर प्रथम पक्ष के लोग पुनः गांव में बसने आ गए, जिससे ग्रामीण आक्रोशित हैं कि ये लोग कहीं फिर से किसी घटना को अंजाम न दे दे|

कार्रवाई में जुटी पुलिस 

राजनगर थानाध्यक्ष अमृत कुमार साह ने बताया कि स्थिति अब नियंत्रण में है। चार घायलों को डीएमसीएच भेजा गया है। उनमें एक को गोली लगी है। अन्य घायलों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। अभी तक कोई आवेदन पुलिस को प्राप्त नहीं हुआ है। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। स्थिति पर नजर बनी हुई है।

Edited By Dharmendra Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept