दरभंगा में दो सहोदर भाइयों ने ही की थी हत्या, कल सुनाई जाएगी सजा

Bihar Crime News राजू यादव हत्याकांड में दो सहोदर भाई पाए गए दोषी सत्र न्यायाधीश रुद्र प्रकाश मिश्रा की अदालत ने दोनों को किया दोषी करार 8 फरवरी 2019 को लहेरियासराय के अभंडा निवासी राजीव रंजन यादव उर्फ राजू यादव की गर्दन काटकर कर दी गई हत्या।

Dharmendra Kumar SinghPublish: Tue, 18 Jan 2022 03:18 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 03:18 PM (IST)
दरभंगा में दो सहोदर भाइयों ने ही की थी हत्या, कल सुनाई जाएगी सजा

दरभंगा, जासं। राजीव रंजन यादव उर्फ राजू यादव हत्याकांड में सत्र न्यायाधीश रुद्र प्रकाश मिश्रा की अदालत ने दो सहोदर भाई राजा यादव और हीरा यादव को दोषी करार दिया है। सजा सुनाने के लिए 19 जनवरी की तिथि निर्धारित की है। लहेरियासराय थानाक्षेत्र के अभंडा निवासी राजीव रंजन यादव उर्फ राजू यादव की आठ फरवरी 2019 को गर्दन काटकर हत्या कर दी गई थी। मामले में राजू की मां सुशीला देवी ने कांड संख्या 43/19 के तहत मामला दर्ज कराया था। इसमें अभंडा मोहल्ला निवासी दो सहोदर भाई राजा यादव और हीरा यादव पर धारदार हथियार से राजू का गर्दन काटने और पेट फाड़कर हत्या कर देने का आरोप लगाया थी।

राजू से आरोपित हीरा यादव पांच लाख रुपये उधार लिए थे। रुपये नहीं लौटाने के कारण विवाद हुआ और हीरा अपने भाई के साथ मिलकर राजू की निर्मम हत्या कर दी। इस हत्याकांड में राजा यादव 25 फरवरी 2019 से और हीरा यादव आठ मार्च 2019 से काराधीन है। लोक अभियोजक नसीरुद्दीन हैदर के निर्देशन में एपीपी चमक लाल पंडित छह गवाहों की गवाही कराकर तीन वर्ष नौ माह एक दिन के अंदर दोनों सहोदर भाईयों को दफा 302/34 भादवि में दोषी करार दिलाने में कामयाब हुए हैं। अब इस जघन्य मामले में दोनो दोषियों को मिलने वाली सजा पर लोगों की नजर टिकी है।

मारपीट व लूटपाट की प्राथमिकी दर्ज

कमतौल। थानाक्षेत्र के अहियारी दक्षिणी पंचायत के अहियारी गोट गांव निवासी सकींद्र राय की पत्नी मंजू देवी ने इसी गांव के सूरत राय, ललित राय, गामा राय, रविशंकर कुमार सहित आठ लोगों के खिलाफ मारपीट, लूटपाट एवं दुव्र्यवहार की प्राथमिकी कमतौल थाना में दर्ज कराई है। पुलिस को बताया है कि आठ जनवरी की शाम सूरत राय के इशारे पर उनके भगीना आदित्य कुमार ने पुत्र रवींद्र के साथ विवाद किया। नामजद गामा राय ने पंचायत भवन के पीछे बुलाकर उसके पुत्र रवींद्र के साथ सूरत राय, ललित राय आदि ने बुरी तरह मारपीट कर जख्मी कर दिया। स्थानीय मुखिया एवं सरपंच की पहल पर मामला शांत हुआ। इसी बीच रात के करीब साढ़े दस बजे सभी नामजदों ने वादिनी के आवास में प्रवेश कर घर के सभी सदस्यों को बुरी तरह मारपीट कर जख्मी कर दिया। एक लाख नकद एवं आभूषण लूट लिए।

Edited By Dharmendra Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept