लाख टके का सवाल, मुजफ्फरपुर में ठंड से राहत कब मिलेगी ? देखें, मौसम विभाग का जवाब

Today Muzaffarpur Weather News Update दो-तीन दिनों तक तो ठंड ऐसे ही रहेगी। इसके बाद पुरबा हवा चलने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि उसके बाद स्थिति बदलेगी। हालांकि 23 को हल्की बारिश होगी। पछिया हवा के चलने से ठंड में इजाफा हुआ है।

Ajit KumarPublish: Wed, 19 Jan 2022 07:27 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 07:27 AM (IST)
लाख टके का सवाल, मुजफ्फरपुर में ठंड से राहत कब मिलेगी ? देखें, मौसम विभाग का जवाब

मुजफ्फरपुर,जासं। Today Muzaffarpur Weather News Update: अभी यह लाख टके का सवाल है कि इस कड़ाके की ठंड से राहत कब मिलेगी? मौसम विभाग ने इसका जवाब दिया है। अगले दो-तीन दिनों तक ठंड से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। इसके बाद थोड़ी राहत मिलेगी। हालांकि 23 जनवरी को हल्की बारिश होने की संभावना है। यह कहना है मौसम विभाग का। मंगलवार को अगले 23 जनवरी तक के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान में यह बात डॉ. राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मौसम विभाग ने यह बात कही है। मौसम विभाग ने कहा है कि पूर्वानुमान की अवधि में उत्तर बिहार के जिलों में अगले दो दिनों तक आसमान साफ तथा मौसम के शुष्क रहने का अनुमान है। अगले दो-तीन दिनों तक ठंड का प्रकोप बने रहने की संभावना है। उसके बाद हल्के से मध्यम बादल छा सकते है जिसके कारण 23 जनवरी के आसपास हल्की वर्षा होने की संभावना है।

मौसम विभाग ने यह कहा है कि इस दौरान अधिकतम तापमान 20 से 22 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 8 से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। अगले दो-तीन दिनों तक पछिया हवा चलने के कारण ठंढ़ में वृद्धि हो सकती है। उसके बाद पुरवा हवा चलने की संभावना है। इस दौरान हवा की रफ्तार औसतन 6 से 8 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है। सापेक्ष आद्र्रता सुबह में 80 से 85 प्रतिशत तथा दोपहर में 50 से 55 प्रतिशत रहने की संभावना है। किसानों के लिए जारी समसामयिक सुझाव में कहा है कि वर्तमान मौसम आलू की फसल में पिछेती झुलसा रोग के फैलाव के लिए अनुकूल है। इसलिए इसकी निगरानी करें।  

धूप निकलने के बाद भी ठंड से निजात नहीं, गलन बरकरार

पछुआ हवाओं का प्रभाव मंगलवार को भी देखने को मिला। धूप निकलने के बाद भी ठंड से निजात नहीं मिली। सुबह पूरा शहर कोहरे की चादर में ढ़का था। घने कोहरे के बीच लोगों को पास की चीज भी नजर नहीं आ रही थी। आसमान में अंधेरा छाया रहा। तेज रफ्तार से चल रही सर्द हवाएं गलन का अहसास करा रही थी। गर्म कपड़ों में लोग दुबके रहे। ठंड से निजात पाने के लिए लोग अलाव तापते नजर आए। दोपहर बाद सूर्यदेव ने दर्शन दिए। लेकिन, बर्फीली हवाओं के कारण धूप बेसअर रहा। हलांकि, ठंड से सिकुड़ रहे लोगों को थोड़ी राहत जरुर मिली। दिन ढलने के साथ ही ठंड का प्रकोप फिर से शुरु हो गया। ठंड और गलन से कंपकपी बढ़ गई। बाजार में चहल पहल कम हो गई। ठंड से बचने के लिए लोग अपने घरों में हीटर ब्लोअर आदि इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते रहे। पिछले दो दिनों ठंड पूरे शबाब पर है। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को अधिकतम तापमान 13.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज की गई है। इस ठंड ने ऐसा जोर मारा कि लोगों का रोम-रोम कांप उठा। सात किलोमीटर की रफ्तार से चली बर्फीली हवाएं दिन भर लोगों को झंकझोड़ती रही। गलन से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों में लिपटे रहे, लेकिन राहत नहीं मिल। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो सोमवार को सीवियर कोल्ड डे के रुप में रिकार्ड किया गया। जिला प्रशासन से जगह जगह अलाव की मांग की जा रही है।

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम