मुजफ्फरपुर एनकाउंटर अपडेट: हवाला की मोटी राशि की सूचना पर अयूब खान गिरोह पहुंचा था लूटने

Muzaffarpur Encounter Update बरूराज के फुलवरिया में पेट्रोल पंप व बाइक एजेंसी लूटने के दौरान गिरोह की पुलिस से हो गई मुठभेड़। गिरोह के टारगेट में थी लालगंज की एक दुकान और सरैया का बर्तन व्यवसायी ।

Ajit KumarPublish: Tue, 25 Jan 2022 09:50 AM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 09:50 AM (IST)
मुजफ्फरपुर एनकाउंटर अपडेट: हवाला की मोटी राशि की सूचना पर अयूब खान गिरोह पहुंचा था लूटने

मुजफ्फरपुर, जासं। हवाला की मोटी राशि की सूचना पर बरूराज के फुलवरिया- सहमलवा स्थित बाइक एजेेंसी व पेट्रोल पंप लूटने कुख्यात अयूब खान गिरोह के बदमाश लूटने पहुंचे थे। जहां उसकी पुलिस से मुठभेड़ हुई। इसमें चार बदमाशों को गोली लगी। गिरोह में शामिल गोली से घायल पांच बदमाशों के अलावा चार अन्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दो बदमाश फरार हो गया। उसकी पहचान कर ली गई है। इस गिरोह ने लूट के लिए इसके अलावा तीन अन्य टारगेट तय कर रख था। इस गिरोह के टारगेट में लालगंज की एक दुकान व सरैया का एक बर्तन व्यवसायी है। इसकी जानकारी एसएसपी जयंतकांत ने सोमवार की शाम अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस कांफ्रेस में दी। एसएसपी के अनुसार, पूछताछ में चारों बदमाशों ने बताया कि हवाला की मोटी राशि वहां होने की सूचना उन्हें मिली थी। हालांकि पेट्रोल पंप व बाइक एजेंसी के मालिक ने बिक्री के सात से आठ लाख रुपये होने की बात बताई थी। दोनों प्रतिष्ठान का मालिक एक ही है।

पुलिस की ओर से की गई 18 राउंड फायरिंग

एसएसपी ने बताया कि पेट्रोल पंप व बाइक एजेंसी लूटने पहुंचे बदमाशों से मुठभेड़ में पुलिस की ओर से 18 राउंड फायरिंग की गई। इस मुठभेड़ में देवरिया थाना के धरफरी गांव का धर्मवीर कुमार, विकास कुमार, राहुल कुमार, वैशाली जिला के हुसनपुर का चुन्नू कुमार व वैशाली का नीरज कुमार गोली लगने से घायल हो गया। इसके अलावा वैशाली का मंजय कुमार, देवरिया थाना के धरफरी गांव का विकास कुमार व पारू थाना के छाप गांव का सलीम हुसैन उर्फ जाकिर पकड़ा गया। इसके पास से पांच देसी पिस्टल, दो देसी कट्टा, 29 कारतूस, नौ खोखा,दो बाइक व एक बोलेरो जब्त की गई।

नाम बदल कर पहचान छिपाना चाह रहा था सलीम

एसएसपी ने बताया कि पारू थाना के छाप गांव का सलीम हुसैन उर्फ जाकिर हुसैन पुलिस गिरफ्त में आने के बाद पूछताछ में अपना नाम बदल कर बताया। उसकी मंशा पहचान छुपाने की थी। जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपनी असली पहचान बताई। गोली लगने से घायल धर्मवीर के विरुद्ध देवरिया थाना में डकैती व साहेबगंज थाना में मादक पदार्थ अधिनियम व अन्य धाराओं में मामला दर्ज है। सलीम के विरुद्ध वैशाली, व अहियापुर में आम्र्स एक्ट व अन्य धाराओं में मामला दर्ज है। दोनों पहले जेल जा चुका है। धर्मवीर इस घटना का मास्टरमाइंड है।

मुठभेड़ में ये थे शामिल

म ठभेड़ में एसएसपी जयंतकांत, डीएसएपी पश्चिमी अभिषेक आनंद, एसडीपीओ सरैया राजेश कुमार शर्मा, मोतीपुर अंचल के पुलिस निरीक्षक रंधीर कुमार, नगर थानाध्यक्ष अनिल कुमार, डीआइयू के पुलिस निरीक्षक सोना प्रसाद, मोतीपुर थानाध्यक्ष मुकेश कुमार, बरूराज थानाध्यक्ष राजकुमार, साहेबगंज थानाध्यक्ष अनूप कुमार, डीआइयू शाखा के सहायक अवर निरीक्षक मधुसूदन व सशस्त्र बल शामिल थे।  

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम