कंचनमाला दोबारा प्रखंड प्रमुख की कुर्सी पर काबिज

कड़ी सुरक्षा के बीच सरैया प्रखंड सभागार में प्रखंड प्रमुख का चुनाव एसडीओ पश्चिमी अनिल कुमार दास ने कराया।

JagranPublish: Thu, 17 Dec 2020 01:45 AM (IST)Updated: Thu, 17 Dec 2020 01:45 AM (IST)
कंचनमाला दोबारा प्रखंड प्रमुख की कुर्सी पर काबिज

मुजफ्फरपुर : कड़ी सुरक्षा के बीच सरैया प्रखंड सभागार में प्रखंड प्रमुख का चुनाव एसडीओ पश्चिमी अनिल कुमार दास ने कराया। 40 सदस्यीय सदन में दो लोगों ने प्रमुख पद की दावेदारी पेश की। पूर्व प्रमुख कंचन माला व बसैठा की समिति सदस्या अनुराधा देवी के बीच कड़ी टक्कर हुई। जबकि तत्कालीन प्रमुख उíमला देवी अपनी दावेदारी पेश नहीं की। काफी गहमागहमी व कड़े मुकाबले में कंचनमाला ने दो वोटों के अंतर से बाजी मार ली। कंचनमाला को 21 व अनुराधा देवी को 19 वोट मिले। विधि व्यवस्था को लेकर थानाध्यक्ष दलबल के साथ पूरे समय मौजूद रहे। पीओ अंजनी कुमार सिंह, सीओ पंकज कुमार व बीडीओ डॉ. बीएन सिंह सभागार के बाहर विधि व्यवस्था को लेकर अलर्ट रहे। मौके पर एसएसबी जवान भी तैनात थे। कंचन माला के दोबारा प्रमुख बनने पर पूर्व राजद नेता शकर प्रसाद यादव, अवधेश राय, मुखिया विश्वनाथ दास, प्रेम गुप्ता, जनार्दन ठाकुर, प्रमोद राय, शिवजी राय आदि ने बधाई दी है। बता दें कि इसके पूर्व कंचनमाला को हराकर उर्मिला देवी प्रमुख बनीं थीं।

नल जल योजना को लेकर प्राथमिकी की चेतावनी

नल जल योजना के क्रियान्वयन में उदासीनता को लेकर बंदरा प्रखंड की बड़गाव पंचायत के वार्ड नंबर 10, 11,12 एवं मुन्नी बैंगरी पंचायत के वार्ड 11 के वार्ड सदस्य को बीडीओ अलख निरंजन ने पत्र भेजकर कार्रवाई की चेतावनी दी है। बीडीओ ने पत्र जमें लिखा कि चार दिन के भीतर नल जल योजना से जलापूर्ति शुरू करें,ें अन्यथा संबंधित वार्ड सदस्यों पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। इधर, ग्रामीणों ने बताया कि सीएम की सख्ती और राशि खर्च के बावजूद उनलोगों के नल से अबतक एक बूंद जल भी नहीं निकला है। कार्य की गुणवत्ता भी संतोषप्रद नहीं है। स्थल जाच हो तो बड़ी गड़बड़िया सामने आ सकती हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept