बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय पर हंगामा

मोतीझील स्थित बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय पर सोमवार को लोगों ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया।

JagranPublish: Tue, 20 Jul 2021 04:25 AM (IST)Updated: Tue, 20 Jul 2021 04:25 AM (IST)
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय पर हंगामा

मुजफ्फरपुर : मोतीझील स्थित बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय पर सोमवार को लोगों ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। उग्र लोग कार्यालय का मेन गेट तोड़ने पर आतुर हो गए। लोग सहायक निदेशक से बात करना चाह रहे थे, लेकिन उन्होंने मिलने से इन्कार कर दिया। सूचना पर पहुंची नगर थाने की पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत कराया। बताते हैं कि परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय में आठ जिलों के विद्यार्थियों के मैट्रिक, इंटर आदि के प्रमाणपत्रों में सुधार किया जाता है। कुछ लोगों का मामला 1983 या उससे पहले का होने के कारण सुधार कर प्रमाणपत्र मिलने में परेशानी हो रही है।

आम दिनों में अमूमन 100 से 125 आवेदनों पर कार्रवाई होती है और विद्यार्थियों को सुधारा गया प्रमाण पत्र उपलब्ध करा दिया जाता है। इधर, नियोजित शिक्षकों के प्रमाणपत्रों में सुधार कर पोर्टल पर लोड करने की आपाधापी में परीक्षा समिति के कर्मियों पर कार्य दबाव बढ़ा हुआ है। एक दिन में एक हजार आवेदन कार्यालय में आ रहे हैं। तीन सौ लोगों को सुधार करके प्रमाणपत्र दिए जा रहे। सहायक निदेशक रजनीश कुमार की मानें तो कार्य को लेकर काफी गंभीरता बरती जा रही है। रात दस बजे तक कार्यालय का संचालन कर प्रमाणपत्र निर्गत किया जा रहा है। कुछ ऐसे लोगों का प्रमाणपत्र फंसा हुआ है, जो काफी पहले का है। 1983 से डाटा उनके पास है। उसके पहले का डाटा पटना से मेल कर मंगाया जाता है, उसके बाद आवेदक को प्रमाणपत्र उपलब्ध कराया जाता है। उन्होंने किसी अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील की। कहा कि अगर किसी के विरुद्ध भ्रष्टाचार का सबूत है तो त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

टीईटी नियोजित शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह का कहना है कि नियोजित शिक्षकों को 20 जुलाई तक ही प्रमाणपत्रों का डाटा निगरानी के पोर्टल पर अपलोड करना है। मैट्रिक इंटर का अंक पत्र, एडमिट कार्ड के मूल प्रमाणपत्रों में नाम, पिता का नाम सुधार, द्वितीय प्रति निर्गत करने में परीक्षा समिति के बाबू आनाकानी कर रहे हैं, इसको लेकर शिक्षकों को भारी परेशानी हो रही है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम