सेब व रजनीगंधा की खेती पर 92 हजार 500 रुपये का अनुदान, इस तरह लें लाभ

Granton apple cultivation किसानों का लागत मूल्य के 50 प्रतिशत या अधिकतम 92 हजार पांच सौ रुपये प्रति हेक्टेयर मिलेगी अनुदान की राशि। रजनीगंधा के लिए 22 जनवरी तक किसान कर सकते हैं आनलाइन आवेदन। फूल की खेती से किसानों को होगा फायदा।

Ajit KumarPublish: Fri, 21 Jan 2022 09:57 AM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 09:57 AM (IST)
सेब व रजनीगंधा की खेती पर 92 हजार 500 रुपये का अनुदान, इस तरह लें लाभ

समस्तीपुर, [प्रकाश कुमार]। Granton apple cultivation: अब समस्तीपुर जिले में सेब और रजनीगंधा का उत्पादन होगा। उद्यान निदेशालय द्वारा पायलट प्रोजेक्ट के तहत जिले का चयन किया गया है। आवेदक को पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर प्राथमिकता दी जाएगी। इच्छुक किसान आनलाइन आवेदन कर सकते है। जिले में पायलट प्रोजेक्ट के तहत रजनीगंधा की खेती पांच हेक्टेयर व सेब की खेती एक हेक्टेयर में करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। किसानों को वास्तविक लागत मूल्य का 50 प्रतिशत अधिकतम 92 हजार 500 रुपये सहायता अनुदान दिया जाएगा।

उद्यान पदाधिकारी डा. श्रीकांत ने बताया कि जिले को रजनीगंधा की खेती के लिए चयन किया गया है। इस योजना से लाभ लेने वाले किसानों को आनलाइन आवेदन करना होगा। योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ की तर्ज किया जाएगा। रजनीगंधा फूल की मांग बढ़ी है। किसानों को उसे बिक्री करने के लिए इधर-उधर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। फूल व्यवसायी खुद किसानों के खेतों से खरीदारी कर लेंगे।

फूल की खेती कर खुशहाल होंगे किसान

फूल की मांग बढ़ने के कारण किसानों को अच्छी आमदनी होगी। प्रत्येक वर्ष लाखों रुपये की कमाई बढ़ सकती है। जिले में मशरूम को जिस तरह से बढ़ावा देने के लिए विभाग ने लोगों को जागरूक किया है उसी तरह फूल की खेती के लिए भी प्रचार-प्रसार कराया जाएगा। बताते चलें कि मशरूम उत्पादन को लेकर ग्रामीण इलाके के लोगों का एक समूह तैयार किया जाता है। तीन दिनों का प्रशिक्षण के उपरांत उन्हें अनुदानित दर पर मशरूम का किट दिया जाता है। 90 प्रतिशत अनुदान की राशि मिलती है। जिले में 25 हजार सामान्य एवं पांच हजार एससी व एसटी किसानों को किट उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

50 फीसद मिलेगी अनुदान की राशि

कृषि विभाग किसानों को विशेष उद्यानिक फसल योजना के तहत जिले में सेब और रजनीगंधा की खेती होगी। सेबी व रजनीगंधा की खेती में लागत की 50 फीसदी तीन चरणों में अनुदान मिलेगी। 

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम