अर्थशास्त्र में डायग्राम, रेखाचित्र व तालिका का अधिक प्रयोग करें बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट के छात्र

BSEB Bihar Board 12th Exam 2022 सरल व सहज भाषा में लिखें प्रश्नों के उत्तर। योजनाबद्ध तरीके से करें तैयारी।लिखने का अभ्यास करें और परीक्षार्थी इस समय किसी प्रकार का तनाव नहीं लें। परीक्षार्थी योग करें इससे ताजगी का एहसास होगा।

Ajit KumarPublish: Fri, 28 Jan 2022 11:16 AM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 11:16 AM (IST)
अर्थशास्त्र में डायग्राम, रेखाचित्र व तालिका का अधिक प्रयोग करें बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट के छात्र

मुजफ्फरपुर, जासं। इंटरमीडिएट की परीक्षा शुरू होने में कुछ ही दिन शेष हैं। दैनिक जागरण इंटर के परीक्षार्थियों के लिए अभियान चला रहा है। अर्थशास्त्र विषय के विद्यार्थियों को आरबीबीएम कालेज के अर्थशास्त्र के सहायक प्राध्यापक डा.अभय कुमार ने सलाह दी। बताया कि योजनाबद्ध तैयारी की जाए तो अर्थशास्त्र में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। संपूर्ण पाठ्यक्रम का अध्ययन करने के बाद उसे दोहराएं। अर्थशास्त्र में डायग्राम, रेखाचित्र से बेहतर अंक प्राप्त कर सकते हैं। प्रश्नों के उत्तर सरल व सहज भाषा में दें। परीक्षार्थी को अपने सिलेबस में कितने चैप्टर और टापिक की जानकारी होनी चाहिए। अब दो दिन ही समय रह गए हैं ऐसे में ङ्क्षबदुवार महत्वपूर्ण पाठ को दोहराएं। लिखने का अभ्यास करें और परीक्षार्थी इस समय किसी प्रकार का तनाव नहीं लें। परीक्षार्थी योग करें इससे ताजगी का एहसास होगा। कहा कि प्राणायाम और सूर्य नमस्कार अवश्य करें। अच्छी नींद लेना भी जरूरी है। 

इन चैप्टरों को जरूर पढ़ें

अर्थशास्त्र में दो पेपर पढऩा है। पहला प्रारंभिक व्यशिष्ट अर्थशास्त्र। इसमें कुल 14 टापिक हैं। इनमें व्यशिष्ट अर्थशास्त्र एक परिचय है, उपभोक्ता संतुलन, मांग का नियम, मांग की कीमत लोच, उत्पादन फलन, लागते, आगम की धारणाएं, बाजार के विभिन्न रूप,पूर्ण प्रतियोगिता में बाजार संतुलन व मांग तथा पूर्ति परिवर्तनों का प्रभाव आदि महत्वपूर्ण पाठ हैं। वहीं दूसरे पेपर में प्रारंभिक समशिष्ट अर्थशास्त्र के कुल 16 टापिक हैं। विद्यार्थियों को मुख्य रूप से चक्रीय प्रभाव, राष्ट्रीय आय से संबंधित अवधारणाएं, राष्ट्रीय आय का मापन, मुद्रा, केंद्रीय बैक,सामूहिक मांग,सामूहिक पूर्ति व सम्बंधित धारणाएं, निवेश गुणक, सरकारी बजट, विदेशी विनिमय दर, भुगतान शेष खाते आदि पर ज्यादा ध्यान दें।

100 अंक की होगी परीक्षा

अर्थशास्त्र की परीक्षा 100 अंकों की होती है। प्रश्न पुस्तिका के दो खंड हैं। खण्ड ए एवम खण्ड बी। खंड ए में 100 वस्तुनिष्ट प्रश्न है जिनमें किन्हीं 50 प्रश्नों का उत्तर देना अनिवार्य है। 50 प्रश्नों से अधिक का उत्तर देने पर प्रथम 50 प्रश्न का ही मूल्यांकन होगा। प्रत्येक के लिए 01अंक निर्धारित है। इनका उत्तर देने के लिए उपलब्ध कराए गए ओएमआर उत्तर पत्रक में दिए गए सही विकल्प को नीले या काले बाल पेन से गोल करें। खंड बी में 30 लघु उत्तरीय प्रश्न हैं। प्रत्येक के लिए दो अंक निर्धारित है। जिसमें से किन्हीं 15 प्रश्नों का उत्तर देना अनिवार्य है। इसके अतिरिक्त इस खंड में आठ दीर्घ उत्तरीय प्रश्न दिए गए है। प्रत्येक के लिए पांच अंक निर्धारित हैं जिसमें से किन्हीं चार प्रश्नों का उत्तर देना अनिवार्य है।  

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept