मुजफ्फरपुर में सीटिंग पैटर्न में बदलाव के बाद केंद्रों पर कम पड़ गए बेंच-डेस्क

BSEB Bihar Board 12th Exam 2022 08 केंद्रों पर जगह की कमी के कारण पंडाल में परीक्षा देंगे विद्यार्थी। 38 केंद्रों पर दूसरे स्कूलों से कराई जानी है बेंच-डेस्क की आपूर्ति। डीईओ ने कहा कि 30 तक इन सभी उपस्कर की आपूर्ति।

Ajit KumarPublish: Sat, 29 Jan 2022 11:00 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 11:00 AM (IST)
मुजफ्फरपुर में सीटिंग पैटर्न में बदलाव के बाद केंद्रों पर कम पड़ गए बेंच-डेस्क

मुजफ्फरपुर, जासं। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से शुक्रवार को इंटर की परीक्षा को लेकर डीईओ अब्दुस सलाम अंसारी और बोर्ड के नोडल पदाधिकारी ने पदाधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें परीक्षा को लेकर अबतक विभाग की ओर से की गई तैयारियों की चर्चा की गई। कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर बोर्ड की ओर से सीङ्क्षटग पैटर्न में बदलाव के कारण अब कई और केंद्रों पर पंडाल तैयार किया जाएगा। पदाधिकारियों ने डीईओ व बोर्ड के नोडल पदाधिकारी को बताया कि पहले से छह केंद्रों पर पंडाल का निर्माण करना था, लेकिन दो और केंद्राधीक्षकों की ओर से विद्यार्थियों की आपूर्ति से कम बैठने की जगह की बात कही गई। ऐसे में प्रभात तारा सीबीएसई स्कूल, हाईस्कूल कांटी, आरसीएनडी कालेज कांटी, मारवाड़ी प्लस टू स्कूल, महेश प्रसाद सिंह डिग्री कालेज बेला, आरकेपीएन हाईस्कूल बोचहां, नीतीश्वर आयुर्वेद मेडिकल कालेज और हरि सिंह हाईस्कूल छपरा कांटी में पंडाल का निर्माण कराया जाएगा। वहीं 38 केंद्रों पर 3100 बेंच-डेस्क की कमी बताई गई है। डीईओ ने कहा कि 30 तक इन सभी उपस्कर की आपूर्ति और 31 जनवरी तक पंडाल का निर्माण हर हाल में करा दिया जाएगा। केंद्राधीक्षकों की ओर से पंडाल निर्माण को लेकर राशि की मांग की गई है। 

कदाचारमुक्त परीक्षा को लेकर आज केंद्राधीक्षकों की ब्रीफिंग करेंगे डीएम

इंटर की परीक्षा कदाचारमुक्त और शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने को लेकर एमआइटी मुजफ्फरपुर में सभी केंद्राधीक्षकों को डीएम ब्रीफिंग करेंगे। इसमें कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर सभी केंद्रों पर सख्ती से निर्देशों का अनुपालन कराने को कहा जाएगा। बोर्ड की ओर से कहा गया कि केंद्रों पर मास्क भी उपलब्ध रखना है। जो विद्यार्थी मास्क लेकर नहीं आएंगे उन्हें मास्क उपलब्ध कराया जाएगा।  

बोचहां में काउंसलिंग में नहीं पहुंचा कोई

बोचहां (मुजफ्फरपुर): प्रखंड संसाधन केंद्र पर पटियासा की पंचायत नियोजन समिति राह देखती रह गई, लेकिन एक भी अभ्यर्थी नहीं पहुंचा। लेखा योजना डीपीओ प्यारे मोहन तिवारी, मजिस्ट्रेट बीसीओ कार्तिक कुमार, बीईओ अरविंद कुमार, पंचायत सचिव अनिल कुमार व बीआरपी मो. जाहिद हुसैन शिक्षकों के चयन के लिए तैनात थे। पंचायत की वर्ग 1 से 5 के सामान्य वर्ग में 3 सीट एवं उर्दू में 2 सीट सहित पांच रिक्तियों के लिए मेधा सूची में सामान्य पर 200 एवं उर्दू के 7 अभ्यर्थियों का नाम सूचीबद्ध था, लेकिन देर शाम तक कोई अभ्यर्थी नहीं पहुंचे और सभी सीट खाली रह गई।

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम