बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा 2022: केमेस्ट्री में बेहतर नंबर लाने का क्या है फार्मूला?

Bihar Intermediate Exam 2022 Updates समस्तीपुर के महिला कॉलेज रसायन शास्त्र विभाग की सहायक प्राध्यापक डा. आकांक्षा उपाध्याय ने परीक्षार्थियों को सलाह दी है कि वे अधिक से अिधक रिएक्शन को तैयार करने पर बल दें ।

Ajit KumarPublish: Tue, 18 Jan 2022 09:38 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 09:38 AM (IST)
बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा 2022: केमेस्ट्री में बेहतर नंबर लाने का क्या है फार्मूला?

समस्तीपुर, जागरण संवाददाता। रसायनशास्त्र की तैयारी के लिए हर दिन रिएक्शन को लिख कर अभ्यास करें। इससे अलग से विषय की तैयारी नहीं करनी पड़ेगी। ज्यादा से ज्यादा रिएक्शन की तैयारी करें। विज्ञान की पढ़ाई लगातार परिश्रम और समझ के करना ही श्रेष्ठ होता है। रटने के बजाए उसको समझ कर पढ़े। इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2022 के रसायन शास्त्र के सिलेबस में कोई कटौती नहीं की गयी है। बल्कि छात्रों को उत्तर देने में सुविधा हो, इसके लिए विकल्पों की संख्या बढ़ाई गयी है। महिला कॉलेज रसायन शास्त्र विभाग की सहायक प्राध्यापक डा. आकांक्षा उपाध्याय ने बताया कि सब्जेक्टिव प्रश्नों से ही वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते हैं। इसलिए इसका अभ्यास करने से वस्तुनिष्ठ के साथ लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों की भी तैयारी हो जाएगी।

 बोर्ड के मॉडल प्रश्नपत्र और 2012 से 2017 तक के प्रश्नपत्र का जरूर अभ्यास करें। बिहार बोर्ड ने रसायन शास्त्र में वस्तुनिष्ठ, लघु उत्तरीय और दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों में विकल्पों की संख्या बढ़ा दी है। डा. आकांक्षा की मानें तो हर सेक्शन में लगभग दोगुने प्रश्न पूछे जाएंगे। इससे उत्तर देने में छात्रों को आसानी होगी। परीक्षार्थियों को टिप्स देते हुए यह जानकारी दी। बिहार बोर्ड ने सिलेबस में कोई कटौती नहीं की है। हर चैप्टर से प्रश्न पूछे जाएंगे। चूंकि इस बार प्रश्नों की संख्या अधिक होगी तो आपने जो भी चैप्टर पढ़ा है, उससे आपको उत्तर देने में कोई परेशानी नहीं होगी। प्रश्न छूटने वाली दिक्कतें नहीं होंगी।

अंतिम समय में बेहतर होती है तैयारी, जम कर पढ़ाई करें

परीक्षा तैयारी के संबंध में जितना अब तक पढ़ा है, उसी का अभ्यास करें। अब परीक्षा के लिए कम दिन ही बचा हैं, इसमें हर दिन सात से आठ घंटे की पढ़ाई करें। लिखने का अभ्यास करें। इससे परीक्षा हॉल में गलतियां कम होंगी। हर चैप्टर से वस्तुनिष्ठ, लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे। उन्होंने बताया कि वस्तुनिष्ठ प्रश्न 70, लघु उत्तरीय 20 और दीर्घ उत्तरीय छह प्रश्न पूछे जाएंगे। कुल प्रश्नों की संख्या 96 हो सकती है। इसमें से छात्रों को 48 प्रश्नों का जवाब देना होगा।

न्यूमेरिकल से कम प्रश्न रहेंगे

डा. आकांक्षा ने कहा कि इस बार न्यूमेरिकल से प्रश्न कम रह सकते हैं। ज्यादातर प्रश्न बिना न्यूमेरिकल के रहेंगे। इससे उत्तर देने में आसानी होगी। उन्होंने बताया कि डायग्राम नहीं बनाना है। बस हर चैप्टर से बेसिक तैयारी जरूर कर लें। इसके अलावा उन्होंने पांच साल के प्रश्नों से अभ्यास करने की भी सलाह दी।

महत्वपूर्ण चैप्टर

फिजिकल : केमिकल कायनेटिक्स, सरफेस केमेस्ट्री, थर्मोडायमेक्स, इलेक्ट्रो केमेस्ट्री।

आर्गेनिक : अल्कोहल, एलडेहाइड एंड किटोन, कार्बोहाइड्रेड एसिड, एमिनस।

इन आर्गेनिक : पी ब्लॉक इलेमेंट्स, डी ब्लॉक इलेमेंट्स, को-ऑर्डिनेटर कंपाउंड। 

Edited By Ajit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept