बिचौलियों के बिना लाभुकों तक पहुंचे योजनाओं का लाभ, मधुबनी में हुकुमदेव नारायण ने कही बड़ी बता

Madhubani news मधुबनी ज‍िले में क्षेत्र भ्रमण में पिपरौन पहुंचे पूर्व सांसद हुकुमदेव नारायण यादव। कार्यकर्ताओं को लोगों से पीएम की जनकल्याणकारी योजनाओं का फीडबैक लेने का दिया निर्देश। उनकी समस्याओं को संबंधित अधिकारियों तक भी पहुंचाना है।

Dharmendra Kumar SinghPublish: Sat, 28 May 2022 04:41 PM (IST)Updated: Sat, 28 May 2022 04:41 PM (IST)
बिचौलियों के बिना लाभुकों तक पहुंचे योजनाओं का लाभ, मधुबनी में हुकुमदेव नारायण ने कही बड़ी बता

मधुबनी (हरलाखी), जासं। क्षेत्र भ्रमण के दौरान पूर्व सांसद हुकुमदेव नारायण यादव पिपरौन गांव पहुंचे। कार्यकर्ताओं से भेंट वार्ता के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा चलाए जा रहे जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लाभुकों तक बिना किसी बिचौलियों की मदद से पहुंचे। इसके लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को भी अपना योगदान देना अनिवार्य है। पार्टी कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर लाभुकों से संपर्क करना है और पीएम नरेंद्र मोदी के द्वारा चलाए जा रहे किसान सम्मान निधि योजना, उज्जवला योजना , आवास योजना, आयुष्मान योजना एवं घर-घर शौचालय, घर-घर बिजली योजना सहित सभी योजनाओं का फीडबैक लेना है।

योजना का लाभ लेने में जिन्हें समस्या हो रही है, उन्हें मदद भी करनी है , ताकि लाभुक बिचौलियों का शिकार न हों। वहीं, धरातल पर योजनाएं कैसी चल रही है , उसकी भी रिपोर्ट बनाकर पार्टी आलाकमान को भेजना है। जिससे प्रधानमंत्री को योजनाओं के संचालन संबंधी उचित जानकारी मिल सके और उसमें कुछ सुधार करने की जरूरत हो तो वह भी हो सके। इसके लिए कार्यकर्ताओं को जनता के बीच योजनाओं के संबंध में जागरूकता भी फैलाना है । उनकी समस्याओं को संबंधित अधिकारियों तक भी पहुंचाना है। अब योजनाओं में आनलाइन , आधार ल‍िंक व केवाईसी इत्यादि की प्रक्रिया शुरू हुई है । उस संबंध में भी जनता को जागरूक करना है, ताकि जरूरतमंद लोगों तक योजनाओं का सीधा लाभ पहुंच सके । आनलाइन , आधार ल‍िंक व केवाईसी इत्यादि से सरकार का उद्देश्य फर्जीवाड़े पर भी रोक लगाना है। इसलिए प्रक्रिया में कहीं अगर किसी लाभुकों को परेशानी हो रही है तो कार्यकर्ताओं का कर्तव्य बनता है कि उनकी समस्या को दूर करें।मौके पर मंडल अध्यक्ष अनिल कुमार स‍िंह, योगी यादव , सुनील मिश्र, जंग बहादुर यादव, रामबाबू यादव, कृष्णचन्द्र स‍िंह , रणवीर स‍िंह, बंटी स‍िंह , डा. महेश ठाकुर, उपेंद्र यादव, रामपुकार स‍िंह, सुरेंद्र स‍िंह, केशव स‍िंह, प‍िंटू स‍िंह आदि मौजूद थे।

Edited By Dharmendra Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept