एनएसएस की बैठक में 31 प्रस्तावों पर चर्चा, वार्षिक बजट पास

मुंगेर । राष्ट्रीय सेवा योजना की बैठक कुलपति प्रो. श्यामा राय की अध्यक्षता में सिडिकेट हाल में

JagranPublish: Thu, 23 Sep 2021 07:56 PM (IST)Updated: Thu, 23 Sep 2021 07:56 PM (IST)
एनएसएस की बैठक में 31 प्रस्तावों पर चर्चा, वार्षिक बजट पास

मुंगेर । राष्ट्रीय सेवा योजना की बैठक कुलपति प्रो. श्यामा राय की अध्यक्षता में सिडिकेट हाल में हुई। कुलपति ने कहा कि एनएसएस कोई ऐच्छिक कार्यक्रम नहीं है, बल्कि सामाजिक सरोकार से जुड़ा एक अनिवार्य कार्यक्रम है। जिसे प्रत्येक महाविद्यालय को अनिवार्य रूप से करना है। समन्वयक डा. राहुल कुमार ने बताया कि यह राष्ट्रीय सेवा योजना मुंगेर विश्विद्यालय मुंगेर के लिए एक ऐतिहासिक दिन है। बैठक में सदस्यों का चयन एनएसएस मैन्युअल के प्रावधान के अनुरूप किया गया है। बैठक में बिदुवार 31 प्रस्ताव पर चर्चा किया गया और वार्षिक बजट भी पास किया गया। जिसमें विगत खर्च की संपुष्टि और आने वाले खर्च की मंजूरी के साथ साथ वर्ष भर के सभी एनएसएस कलेंडर गतिविधियों को आयोजित करने, सभी इकाई की ओर से गोद लिए गांव में विशेष शिविर आयोजित करने, एनएसएस के लिए पृथक वेबसाइट बनाने ,कार्यक्रम पदाधिकारी, ग्रुप लीडर के लिए कार्यशाला आयोजित करने,अच्छे कार्य करने वाले कार्यक्रम पदाधिकारी और स्वयंसेवको को सम्मानित करने, एनएसएस के लिए कैप, बैज,झंडा खरीद करने, पांच महाविद्यालय में एक एक अतिरिक्त ईकाई खोलने, एनएसएस को एक पाठ्क्रम में शुरू करने के लिए पहल, ,भागलपुर एनएसएस ईकाई से विभाजन पूर्व के राशि में हिस्सेदारी मांगने जैसे प्रस्ताव पारित किए गए। हर परिसर हरा परिसर को सफल बनाने पर चर्चा के दौरान आनलाइन जुड़े प्रतिकुलपति ने बर्थडे प्लांट बैंक का सुझाव दिया। जिसका स्वागत ताली बजाकर सभी सदस्य ने किया। जिसके तहत सभी महाविद्यालय अपने वनस्पति विभाग के अधीन ऐसा बैंक बनाएगा, जिसमे शिक्षक, शिक्षणेतर कर्मी, छात्र अपने जन्मदिन पर महाविद्यालय को पौधा देंगे और उसका रोपण भी करेंगे। जिसका रखरखाव महाविद्यालय वनस्पति विभाग करेगा। इस अवसर पर टीएमबीयू के पूर्व समन्वयक डा जय प्रकाश नारायण, कुलसचिव डा. सत्येन्द्र नारायण सिंह, प्रति कुलपति प्रो. जवाहर लाल, महाविद्यालय निरीक्षक डा. भवेश चंद्र पांडेय, सीसीडीसी डा. अजय कुमार, डा. संजय कुमार, डा. मुनिद्र कुमार, नेहा कुमारी, डा. कंचन सिंह, वित्त पदाधिकारी राम किशोर प्रसाद आदि मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept