सीआरएस जांच के लिए तैयार है नई सुरंग : यतेंद्र

संवाद सहयोगी जमालपुर (मुंगेर) मालदा के रेल मंडल प्रबंधक यतेंद्र कुमार ने कहा कि राज्य

JagranPublish: Thu, 20 Jan 2022 07:42 PM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 07:42 PM (IST)
सीआरएस जांच के लिए तैयार है नई सुरंग : यतेंद्र

संवाद सहयोगी, जमालपुर (मुंगेर) : मालदा के रेल मंडल प्रबंधक यतेंद्र कुमार ने कहा कि राज्य की दूसरी नई सुरंग पूरी तरह फिट और तैयार है। मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) की जांच में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। डीआरएम गुरुवार को प्री-नन इंटरलाकिग और नन इंटरलाकिग कार्य का निरीक्षण करने जमालपुर पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि सीआरएस 28 जनवरी होना है। डीआरएम अधिकारियों के साथ ट्राली से जमालपुर-रतनपुर के बीच चल रहे एनआइ कार्य को देखने गए। वरीय मंडल परिचालन प्रबंधक राजेश कुमार को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। रेलखंड का निरीक्षण करने के बाद डीआरएम नई रेलवे सुरंग पहुंचे। ट्राली से उतरकर सुरंग की हर पहलुओं को बारीकी से देखा। सुरंग व रेलखंड का निरीक्षण करने के बाद डीआरएम डीजल शेड पहुंच कर चल रहे इलेक्ट्रिफिकेशन के कार्यों का जायजा लिया। रेलवे मुख्य अस्पताल गए और आक्सीजन प्लांट को देखा। डीआरएम रेलवे बड़ी पुल पर निर्माणाधीन ब्रिज निर्माण के कार्यों को लेकर भी संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। स्टेशन का निरीक्षण करते हुए स्थानीय अधिकारियों के साथ बैठक की। सीनियर डीसीएम पवन कुमार, आरपीएफ कमांडेंट राहुल राज, सहायक सुरक्षा आयुक्त एके सिंह, स्टेशन प्रबंधक ओंकार प्रसाद, टीआई दिलीप कुमार, इंस्पेक्टर मुकेश कुमार सेप्ट,एसआइ एसके सुधा, जेआर मीणा, इंटेलीजेंस अधिकारी विपिन सिंह सहित कई मौजूद थे।

--------

27 तक चलेगा प्री-नन इंटरलॉकिग व नन इंटरलॉकिग कार्य

मालदा से किऊल रेखलंड की कुल 276 किलोमीटर पूरी तरह इलेक्ट्रिफिकेशन के साथ साथ रेल दोहरीकरण का काम पूरा हो गया है। अब अप-डाउन की ट्रेनें रफ्तार में चलेगी। जमालपुर-रतनपुर रेलखंड पर नई सुरंग की पटरी को अप-डाउन की पटरी से जोड़ा जा रहा है। 20 से 23 तक प्री-नन इंटरलाकिग कार्य चल रहा है। 24 से 27 जनवरी से नन इंटरलॉकिग कार्य किया जाएगा। 28 से 31 जनवरी के बीच सीआरएस जमालपुर पहुंचेंगे और जांच करेंगे।

---------

सीआरएस जांच को लेकर तेजी से चल रहा काम

सीआरएस जांच के बाद अगले माह में नई सुरंग से ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। पूर्व रेलवे डीजल शेड में इलेक्ट्रिफिकेशन कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। दो माह में यहां शेड इलेक्ट्रिफिकेशन से लैस हो जाएगा। इलेक्ट्रिक लोको का मेंटनेंस में आसानी होगी। जमालपुर की रेलवे बड़ी पुल के सामांतर नए लोहा पुल अब अंतिम चरण में है। फरवरी और मार्च महीने में मेगा ब्लाक लेकर गार्डर चढ़ाया जाएगा। जमालपुर स्टेशन के दिन जल्द ही बहुरने वाला है। डीआरएम ने कहा कि जमालपुर स्टेशन पर एक नया फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए विभाग को प्रस्ताव भेज दिया गया है। पुराने एफओबी का मरम्मत होना है। रेलवे की छोटकी पुल का भी माडिफिकेशन होना है। उन्होंने कहा कि जमालपुर, किऊल, भागलपुर रेलखंड पर विद्युतीकरण होने से इलेक्ट्रिक लोको का परिचालन सफलता पूर्वक किया जा रहा है, लेकिन विद्युत की आपूर्ति के लिए ईस्ट सेंट्रल रेलवे (इसीआर) पर निर्भर होना पड़ रहा है। जब कभी इसीआर के लखीसराय व खगड़िया सहित अन्य जगहों में विद्युत शट डाउन होता है तो किऊल से लेकर भागलपुर तक ट्रेनें रूक जाती हैं। इसलिए अब जमालपुर स्टेशन के ईद-गिर्द विद्युत पावर सब स्टेशन का निर्माण जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept