ऋषिकुंड हाल्ट से रतनपुर के बीच पहले खुल चुके हैं पैडल क्लिफ

मुंगेर : जमालपुर भागलपुर रेलखंड के बीच अवस्थित रतनपुर स्टेशन से लेकर ऋषिकुंड हाल्ट तक

JagranPublish: Thu, 08 Mar 2018 03:02 AM (IST)Updated: Thu, 08 Mar 2018 03:02 AM (IST)
ऋषिकुंड हाल्ट से रतनपुर के बीच 
पहले खुल चुके हैं पैडल क्लिफ

मुंगेर : जमालपुर भागलपुर रेलखंड के बीच अवस्थित रतनपुर स्टेशन से लेकर ऋषिकुंड हाल्ट तक पहले भी पैडल क्लिफ खोले जाने की घटना घट चुकी है। पिछले साल दो बार इन स्थ्लों पर पैडल क्लिफ खोले जा चुके हैं । इसके अलावे पिछले वर्ष ही बंगाली टोला के पास डाउन ट्रैक के कई पैडल क्लिफ खुले हुए पाए गए। रतनपुर स्टेशन के बाद बार बार पैडल क्लिफ के खोले जाने की घटना से स्थानीय लोगों में आशंका है कि कहीं नक्सली तो ऐसी घटना को अंजाम नहीं दे रहे हैं । जिससे अन्य जगहों की तरह ऐसी घटना कर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा जाए । लोगों का कहना है कि बार बार लोहा पुल से लेकर रतनपुर तक पैडल क्लिफ के खोले जाने से लोगों में भय है । लोगों का कहना है कि रात में पैट्रो¨लग पार्टी की नजर नहीं पड़ती तो ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो सकती थी । रात में रेलवे लाइन की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस तथा रेलवे को करनी चाहिए। जिससे ऐसे कार्य करने वालों को पकड़कर सजा दिलाई जा सके । विदित हो कि पिछले साल 26 जनवरी को एक दर्जन से अधिक पैडल क्लिफ, अगस्त महीने में कई पैडल क्लिफ रतनपुर तथा ऋषिकुंड हाल्ट के बीच खोले जा चुके हैं । वहीं जुलाई माह में बंगाली टोला के समीप डाउन ट्रैक पर भी पैडल क्लिफ के खोले जाने की घटना घट चुकी है । सुत्रों का कहना है कि हो सकता है चोर पैडल क्लिफ को खोलकर बेचने के लिए जा रहे हो तथा पुलिस द्वारा रेलवे पटरी की निगरानी करते देखकर खेत में पैडल क्लिफ छोड़कर भाग गए हो । लोगों का कहना है कि बार बार पैडल क्लिफ के खुलने की घटना पर रेलवे को कड़ा कदम उठाना होगा । वैसे रेल पुलिस इस घटना की जांच कर कार्रवाई की बात कर रही है। लेकिन लोगों के मन में यह प्रश्न बना हुआ है कि आखिर पैडल क्लिफ को खोलने का मकसद क्या हो सकता है । इसका पता लगाया जाना चाहिए ।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept