विक्रमशिला से सफर की है तैयारी तो बदल लें प्लान, दो दिन रहेगी रद

-------------------------------------- संवाद सहयोगी जमालपुर (मुंगेर) विक्रमशिला एक्सप्रेस से स

JagranPublish: Thu, 23 Jun 2022 07:33 PM (IST)Updated: Thu, 23 Jun 2022 07:33 PM (IST)
विक्रमशिला से सफर की है तैयारी तो बदल लें प्लान, दो दिन रहेगी रद

--------------------------------------

संवाद सहयोगी, जमालपुर (मुंगेर) : विक्रमशिला एक्सप्रेस से सफर की तैयारी कर रहे हैं तो अपना प्लान बदल लें। आरक्षण करा चुके हैं तो टिकटें रद करा दें। 25 और 28 जून को विक्रमशिला आनंद विहार टर्मिनल नहीं जाएगी। रेलवे ने दो दिन ट्रेन को रद कर दिया है। पूर्व रेलवे ने इस संबंध में नोटिफिकेशन भी जारी कर दी है। दोनों तिथियों में आरक्षण कराए यात्रियों को टिेकट रद कराने में किसी तरह का शुल्क नहीं काटा जाएगा। दरअसल, जमालपुर के रास्ते भागलपुर से आनंद विहार टर्मिनल तक चल रही विक्रमशिला एक्सप्रेस का परिचालन तीन रैक से होता है। 17 जून को अग्निपथ योजना को लेकर हुए प्रर्दशन में प्रदर्शनकारियों ने लखीसराय स्टेशन पर विक्रमशिला की पूरी एक रैक को आग के हवाले कर दिया है। अभी तक तीसरा रैक मालदा रेल मंडल को उपलब्ध नहीं कराया गया। दो रैक से ही विक्रमशिला एक्सप्रेस का परिचालन हो रहा है। इस वजह से ट्रेन को रद किया गया है। ट्रेन के रद होने से दिल्ली जाने वाले यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। मुंगेर, जमालपुर, बरियारपुर और धरहरा के यात्रियों के लिए यह पसंदीदा ट्रेन है। ऐसे में यात्रियों को दिल्ली तक सफर करने के लिए दूसरी ट्रेनों में आरक्षण कराना होगा।

मुंगेर-खगड़िया-बेगूसराय रूट पर परिचालन शुरू, मिली राहत जमालपुर-मुंगेर-खगड़िया-बेगूसराय रेल रूट पर ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह सामान्य हो गया। छह दिन बाद पैसेंजर ट्रेनें खगड़िया और बेगूसराय के लिए जमालपुर से चली। ट्रेन परिचालन शुरू होने से यात्रियों को राहत मिली है। गुरुवार को लगभग सभी एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें अपने समय से गई। स्टेशन पर सुरक्षा का इंतजाम दिखा। सभी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में स्कार्ट पुलिस नजर आई। जमालपुर-मुंगेर-खगड़िया-बेगूसराय रेल रूट पर ट्रेनों का परिचालन बंद होने से शहरवासियों को सड़क मार्ग का सहारा लेना पड़ रहा था। आटो वाले मनमाना किराया वसूल रहे थे। अब ट्रेनें चलने से यात्रियों को सहूलियत हो रही है। जहां-तहां फंसे थे यात्री, अब लौट रहे घर बीच में लंबी दूरी की ट्रेनों के नहीं चलने से हजारों यात्री जहां-तहां फंसे थे। यात्रियों को काफी परेशानी हो रही थी। प्रतिदिन करोड़ों के राजस्व की क्षति भी रेलवे को हो रही है। लंबी दूरी की ट्रेनो का परिचालन शुरू होने से यात्रियों को राहत हुई है। फंसे यात्री अपने घर लौट रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि यात्रियों को गंतव्य स्टेशन तक पहुंचाना ही रेलवे की प्राथमिकता है। बता दें कि अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनों में आग लगाई थी। इस कारण रेल खंड पर ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept