कलश शोभायात्रा के साथ शुरू हुई मां दुर्गा की आराधना

मधवापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित बाबा पंचेश्वरनाथ महादेव मंदिर प्रांगण में दुर्गा पूजा समिति की ओर से आयोजित नौदिवसीय शारदीय नवरात्र का शुभारंभ भव्य कलश शोभा यात्रा के साथ किया गया।

JagranPublish: Fri, 08 Oct 2021 01:39 AM (IST)Updated: Fri, 08 Oct 2021 03:17 PM (IST)
कलश शोभायात्रा के साथ शुरू हुई मां दुर्गा की आराधना

मधुबनी । मधवापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित बाबा पंचेश्वरनाथ महादेव मंदिर प्रांगण में दुर्गा पूजा समिति की ओर से आयोजित नौदिवसीय शारदीय नवरात्र का शुभारंभ भव्य कलश शोभा यात्रा के साथ किया गया। इस अवसर पर 551 कन्याएं व महिला-पुरुषों ने समिति के अध्यक्ष निलांबर मिश्र के नेतृत्व में गाजे-बाजे के साथ जय माता दी का जयकारा लगाते हुए भव्य कलश शोभा यात्रा निकाली। कलश यात्रा पूजा स्थल से शुरू हो मधवापुर पंचायत के विभिन्न प्रमुख रास्तों से गुजरते हुए पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के मटिहानी स्थित उतर वाहिनी धौंस नदी का पवित्र जल कलश में भरकर पुन: पूजा स्थल पर पहुंची, जहां पूर्व से मौजूद आचार्य पंडितों ने कलश की विधिवत पूजा-अर्चना कर कलश स्थापना के साथ नौदिवसीय शारदीय नवरात्र का शुभारंभ किया। पूजा समिति के अध्यक्ष निलांबर मिश्र ने बताया कि इस वर्ष कोरोना महामारी को लेकर पूजा सादगीपूर्ण तरीके से किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण व पंचायत चुनाव के नियमों व शर्तों का अनुपालन किया जा रहा है। पूजा के दौरान कलश स्थापना के दिन से देवी महाभागवत का संध्या सात बजे से कथा ज्ञान महायज्ञ शुरू हुआ है। वृंदावन की कथा वाचिका साध्वी भाग्यश्री प्रवचन देंगी। यजमान के रूप में कपड़ा व्यवसायी बजरंगी प्रसाद गुप्ता कलश शोभा यात्रा में समिति के सचिव, उपाध्यक्ष उमाशंकर प्रसाद गुप्ता, रामसागर पूर्वे, उप सचिव राकेश नायक, कोषाध्यक्ष मुकेश साह, राजेश कुमार, बादल गुप्ता, शिवकुमार साह, चेतन कुमार रश्मि, बिन्देश्वर नायक, अनिल मुखर्जी, बद्रीनारायण साह, मदन मंडल, मनोज साह सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण शामिल थे। नवरात्र के पहले दिन शुरू हुआ नवाह संकीर्तन, निकली कलश यात्रा

झंझारपुर रेलवे स्टेशन बाजार के बलभद्रपुर गांव में शारदीय नवरात्रा पूजा के प्रथम दिन रामजानकी मंदिर परिसर में नवाह संकीर्तन प्रारंभ हुआ। नवाह संकीर्तन को लेकर रामजानकी मंदिर से शोभा कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्री मंदिर परिसर से निकलकर नवटोल होते हुए कमला बलान के पुराना पुल स्थित नदी किनारे पहुंचा जहां कमला बलान नदी का पवित्र जल कलश में भरा गया। उसके बाद कलश यात्री बाजार सब्जी मंडी होते हुए पथराही होकर पुन: रामजानकी मंदिर पहुंची जहां वैदिक रीति से कलश की पूजा की गई और उसे स्थापित किया गया। इसके साथ ही नवाह संकीर्तन की धुन सीताराम सीताराम सीताराम जय सीताराम प्रारंभ हो गया। महंथ प्रमोद कुमार मिश्र के नेतृत्व एवं रामबालक यादव की अध्यक्षता में यह नवाह ग्रामीणों के सहयोग से किया जा रहा है। कलश यात्रा में अमित कुमार, मोनू मिश्र, भोला मिश्र, शिवम कुमार, अभिनाश कुमार, दीपक कुमार, घूरन पासवान, सीताई पासवान, कुमर विश्वास, सुधाकर यादव व अन्य मौजूद थे। रामजानकी मंदिर में नवाह प्रारंभ होने के बाद माहौल भक्तिमय हो गया है। दूसरी ओर, बलभद्रपुर में ही भगवान राजा सलहेश की पूजा अर्चना विधि पूर्वक बुधवार को की गई। इसमें योगी पासवान, राजेश पासवान, रमण पासवान सहित अन्य मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम