सदर अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं का केंद्रीय टीम ने लिया जायजा

संवाद सहयोगी लखीसराय मंगलवार को मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल लखीसराय की स्वास्थ्य सेवा की गहन ज

JagranPublish: Tue, 23 Nov 2021 06:54 PM (IST)Updated: Tue, 23 Nov 2021 06:54 PM (IST)
सदर अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं का केंद्रीय टीम ने लिया जायजा

संवाद सहयोगी, लखीसराय : मंगलवार को मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल लखीसराय की स्वास्थ्य सेवा की गहन जांच आठ सदस्यीय केंद्रीय टीम ने की। देर शाम तक चली जांच के दौरान टीम के अधिकारियों ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा संचालित सभी स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की पड़ताल की। इस दौरान डीआइओ डा. अशोक कुमार भारती, उपाधीक्षक डा. विपिन कुमार, मैनेजर नंदकिशोर भारती, डा. बबली कुमारी सहित अन्य कार्यक्रम से जुड़े लोग मौजूद रहे। भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग नई दिल्ली के वरिष्ठ सलाहकार रघुनाथ प्रसाद सैनी के नेतृत्व में टीम में एम्स जोधपुर के डा. पंकज भारद्वाज, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रणाली संसाधन केंद्र दिल्ली की नेहा सिघल, आदित्य जोशी, मनीषा शर्मा के अलावा आइआइएचएमआर नई दिल्ली के पंकज तालरेजा, अनुपम वर्मा एवं पुष्पांजलि शामिल थे। सदर अस्पताल का रंग रोगन और साज सज्जा देख जांच टीम के अधिकारी भी समझ गए कि अस्पताल की सूरत बदली गई है। टीम के अधिकारी ने जांच के दौरान अस्पताल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा तय प्रोटोकाल में कमी पाई। कहीं भी भ्रूण परीक्षण संबंधित बोर्ड लिखा हुआ नहीं पाया। टीम ने डायलिसिस की व्यवस्था को सराहना की एवं वहां भर्ती मरीजों से पूछताछ की। जांच के दौरान डायलिसिस के अलावा अल्ट्रसाउंड, आपरेशन रूम और आटो क्लेब मशीन संचालन के लिए तकनीशियन की कमी बताया गया। टीम के अधिकारी प्रसव कक्ष के हर कमरे की बारीकी से जांच की। ओटी रूम जाकर वहां की व्यवस्था को देखा तथा ओटी से मेडिकल कचरा निबटारा के लिए एक टर्नल बनाने का निर्देश दिया। अस्पताल स्थित पोस्टनेटल केयर सेंटर में स्तनपान की व्यवस्था की टीम के अधिकारियों ने सराहना की। टीम के अधिकारियों ने अस्पताल स्थित ओपीडी, इमरजेंसी वार्ड, बच्चा वार्ड, पुरुष महिला वार्ड, पोषण पुनर्वास केंद्र, टीकाकरण की व्यवस्था की गहन पड़ताल की। टीम के अधिकारियों ने अस्पताल स्थित एसएनसीयू का भी जायजा लिया। वहां एसएनसीयू के प्रभारी डा. राकेश कुमार से पूरी जानकारी ली। दोपहर को केंद्रीय टीम के सभी अधिकारियों ने अस्पताल के दीदी की रसोई में भोजन किया। इसके बाद फिर से पूरी टीम अस्पताल पहुंचकर अन्य जानकारी प्राप्त की।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept