किशनगंज में आधी आबादी उद्यमी बनने में पेश कर रही जोरदार दावेदारी

सूबे के पिछड़े जिलों में शुमार किशनगंज में आधी आबादी के हौसले बुलंद हैं। आधी आबादी उद्यमी बनकर अपने पैर पर खड़ी होने के लिए अपनी जोरदार दावेदारी पेश कर रही है। हाल के दिनों में जिले में मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में किए गए आवेदन में से सभी कैटेगरी से कुल 240 लोगों के चयन हुआ है। इसमें महिला कैटेगरी से सबसे अधिक 6

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 06:02 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 06:07 PM (IST)
किशनगंज में आधी आबादी उद्यमी बनने में पेश कर रही जोरदार दावेदारी

संजय मिश्रा, किशनगंज : सूबे के पिछड़े जिलों में शुमार किशनगंज में आधी आबादी के हौसले बुलंद हैं। आधी आबादी उद्यमी बनकर अपने पैर पर खड़ी होने के लिए अपनी जोरदार दावेदारी पेश कर रही है। हाल के दिनों में जिले में मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में किए गए आवेदन में से सभी कैटेगरी से कुल 240 लोगों के चयन हुआ है। इसमें महिला कैटेगरी से सबसे अधिक 68 महिलाएं शामिल हैं, जो क्षेत्र की महिलाओं के उद्यमी बनने की ललक और लक्ष्य प्रदर्शित कर रहा है।

इस योजना के तहत चयनित कुल आवेदकों में महिला के अलावा एससी-एसटी के 42, ओबीसीके 67 और युवा उद्यमी के लिए 62 लोगों का चयन किया गया है। उद्यमी योजना के तहत चयनित लोगों को प्रशिक्षण देकर उन्हें योजना का लाभ देकर उन्हें कुशल उद्यमी बनने में अनुदान के रूप में सहयोग दिया जाएगा। उद्योग विभाग के अधिकारी ने बताया कि चयनित आवेदकों के दस्तावेज सहित उद्योग लगाने का भौतिक रूप से स्थल निरीक्षण कर प्रशिक्षण देने का कार्य शुरू किया गया है। प्रथम चरण में ओबीसी कैटेगरी के 35 चयनितों को 15 दिनों का प्रशिक्षण प्रखंड स्तर पर दिया जा रहा है। चरणबद्ध तरीके से सभी को प्रशिक्षण देकर प्रमाण पत्र दिया जाएगा फिर उसे प्रथम चरण का ऋण उपलब्ध कराकर उद्योग स्थापित करने में मदद किया जाएगा।

------- योजना में 50 प्रतिशत है ऋण का प्रावधान::

उद्यमी योजना में सभी कैटेगरी को शामिल किया गया है। योजना के तहत 10 लाख तक के उद्योग के लिए विभाग की ओर से 50 प्रतिशत तक अनुदान दिया जाएगा। अगर कोई व्यक्ति आठ लाख का भी उद्योग स्थापित करेगा तो कुल राशि के 50 प्रतिशत तक अनुदान मिलेगा। ताकि वह अपना उद्योग सरकारी सहायता से स्थापित कर सकें। इससे क्षेत्र में रोजगार बढ़ने के साथ कई लाभ मिलेगा।

-----------------

कोट के लिए:-

उद्यमी योजना के तहत चयनित लोगों की कैटेगरी में महिलाओं की संख्या अच्छी खासी है। इससे यह पता चलता है कि महिलाएं घर-परिवार की जिम्मेदारी संभालने के साथ उद्यमी बनने के लिए लिए भी जागरूक हुई है।

चयनित 240 लाभुकों को प्रक्रिया के तहत योजना का लाभ दिया जाएगा।

रजनीकांत रंजन, जिला उद्योग महाप्रबंधक

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept