पति-पत्नी की मौत की जांच करने पहुंची फोरेंसिक टीम

कोढोबारी थाना क्षेत्र के पत्थरघट्टी पंचायत अंतर्गत कचना गांव में मंगलवार की शाम पत्नी की पीट-पीटकर हत्या बाद पति के फांसी के फंदे पर लटकने मामले में बुधवार को फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल की जांच की।

JagranPublish: Wed, 19 Jan 2022 07:44 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 07:44 PM (IST)
पति-पत्नी की मौत की जांच करने पहुंची फोरेंसिक टीम

संवाद सूत्र, दिघलबैंक (किशनगंज) : कोढोबारी थाना क्षेत्र के पत्थरघट्टी पंचायत अंतर्गत कचना गांव में मंगलवार की शाम पत्नी की पीट-पीटकर हत्या बाद पति के फांसी के फंदे पर लटकने मामले में बुधवार को फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल की जांच की। घटना पति-पत्नी का आपसी विवाद में बताया जा रहा है। कचना गांव निवासी महफूज आलम ने पहले तो अपनी पत्नी को धारदार हथियार और पीट-पीटकर मार डाला। महिला की शोर-शराबा सुनकर कुछ ग्रामीण जब इकट्ठा हुए तो महफूज आलम दरवाजा खोलकर घर से बाहर निकल गया और लोगों को बताया कि मैं डाक्टर को लेने जा रहा हूं। घर पहुंची महिलाओं ने दरवाजा खोल कर देखा तो उसकी पत्नी लवली बेगम मृत पड़ी हुई थी।

महिलाओं की शोर शराबा पर ग्रामीणों ने जब महफूज आलम का तलाश किया तो महफूज आलम घर से कुछ ही दूरी पर नदी किनारे आम के बागान में फांसी के फंदे लगाकर झूलते पाया गया। उसकी भी मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना पर थानाध्यक्ष अजीत कुमार सहित अन्य लोग पहुंचे। घटना बाद महिला का दस वर्षीय पुत्र का रो-रोकर बुरा हाल है। उधर मृतका लवली बेगम के मायके झिगाकाटा से परिजनों ने बताया कि पति-पत्नी में काफी दिनों से विवाद चल रहा था। वहीं घटना की सूचना पर फोरेंसिक टीम पूर्णिया से आई और मामले की हरेक बिदु की जांच कर कुछ नमूना इकट्ठा की। ग्रामीणों का कहना है कि यह घटना पति-पत्नी के आपसी झगड़े के कारण पहले पति ने अपनी पत्नी को मार डाला फिर आवेश में आकर अपने आप फांसी के फंदे पर लटक गया। इस घटना से गांव के लोग सदमें में हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept