मुंगेर प्रमंडल के आयुक्त ने की समीक्षा, दिए कई निर्देश

मुंगेर प्रमंडल के आयुक्त प्रेम सिंह मीणा शनिवार को खगड़िया पहुंचे।

JagranPublish: Sun, 28 Nov 2021 12:11 AM (IST)Updated: Sun, 28 Nov 2021 12:11 AM (IST)
मुंगेर प्रमंडल के आयुक्त ने की समीक्षा, दिए कई निर्देश

जागरण संवाददाता, खगड़िया: मुंगेर प्रमंडल के आयुक्त प्रेम सिंह मीणा शनिवार को खगड़िया पहुंचे। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर विभिन्न योजनाओं की समीक्षा के साथ निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्य की भी समीक्षा की। इसे लेकर आयुक्त की अध्यक्षता में अधिकारियों के साथ सभी राष्ट्रीय एवं राज्यस्तरीय राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की गई। इस मौके पर मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा के साथ निर्वाचक नामावली में लिगानुपात सुधारने और छूटे हुए सभी लोगों को शामिल करने को लेकर विस्तार से चर्चा के साथ कई निर्देश दिए गए। सर्व प्रथम आयुक्त ने मतदाता पुनरीक्षण कार्य की पूर्ण जानकारी ली। जिस पर डीएम आलोक रंजन घोष ने पावर पाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से जिले में विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के प्रगति कार्य से आयुक्त को अवगत कराया। डीएम ने बताया कि अलौली विधानसभा क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 2,60,773 है। खगड़िया विधानसभा क्षेत्र में 2,65,484, बेलदौर विधानसभा क्षेत्र में 3,15,879 एवं परबत्ता विधानसभा क्षेत्र में 3,11,525 मतदाता हैं। मतदाता सूची के अनुसार जिला का लिगानुपात 911.24 है। अलौली विधानसभा क्षेत्र में लिगानुपात 928, खगड़िया में 902, बेलदौर में 916 एवं परबत्ता में 899 है। जिले में मतदाता सूची शत प्रतिशत फोटो युक्त है।

13 हजार प्रपत्र किए गए हैं प्राप्त

डीएम ने आयुक्त को जानकारी दी कि मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य के तहत 13 हजार से अधिक प्रपत्र प्राप्त किए जा चुके हैं। महिलाओं के मतदाता पहचान पत्र हेतु आवेदन कम आए हैं। पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव के समय लिगानुपात को सुधारा गया था। विशेष पुनरीक्षण के दौरान जीविका दीदियों, आंगनबाड़ी सेविकाओं और बीएलओ से महिलाओं के नाम शामिल कराने हेतु सर्वेक्षण कराया गया था।

प्रमंडलीय आयुक्त ने विस्तृत सर्वेक्षण कराने का दिया निर्देश

बैठक में पूरी जानकारी लेने के साथ प्रमंडलीय आयुक्त ने विस्तृत सर्वेक्षण कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी छूटी हुई महिलाओं का नाम शामिल किया जा सके, इसे लेकर प्रयास करने के साथ लिगानुपात में और सुधार लाया जाए। प्रमंडलीय आयुक्त ने सभी निर्वाचक निबंधन पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि 30 नवंबर तक हर हाल में सभी छूटे हुए लोगों का नाम निर्वाचक सूची में शामिल करने हेतु आवेदन प्राप्त किया जाए। राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि सभी मतदान केंद्रों पर बूथ लेवल एजेंट नियुक्त करेंगे, ताकि वे और बीएलओ आपसी समन्वय से काम करते हुए मतदाता सूची को अद्यतन कर सकें। पूरी प्रक्रिया को पारदर्शी बनाई जाए। ताकि आसानी से मतदाता सूची में नाम दर्ज कराया जा सके या इसमें संशोधन कराया जा सके। ये थे उपस्थित

बैठक में डीडीसी अभिलाषा शर्मा, सदर एसडीओ धर्मेंद्र कुमार, गोगरी एसडीओ अमन कुमार सुमन, डीसीएलआर खगड़िया जनक कुमार, डीसीएलआर गोगरी चंद्रशेखर सिंह, उप निर्वाचन पदाधिकारी खगड़िया जितेंद्र कुमार सिंह आदि।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept