26 को कविता पाठ के समंदर में डुबकी लगाएंगे जमुई वासी

संवाद सहयोगी जमुई दो साल बाद 26 मई को संक्रमण की काली छाया से जागरण का कवि सम्मेलन मुक्त होगा। फलस्वरूप लंबे अंतराल के बाद एक बार फिर दैनिक जागरण के बैनर तले कविता पाठ के समंदर में जमुई वासी गोता लगा सकेंगे। इस दफे कवियों की मंडली का नेतृत्व पद्मश्री सहित अन्य पुरस्कारों से सम्मानित हास्य कवि डा. सुरेंद्र दुबे कर रहे हैं। उनके साथ हास्य कवि गौरव शर्मा वीर रस के कवि प्रख्यात मिश्रा तथा श्रृंगार रस की कवयित्री गौरी मिश्रा मंच की शोभा बढ़ाने के साथ-साथ श्रोताओं के दिलों दिमाग पर अपनी कविता पाठ से अमिट छाप छोड़ेंगे।

JagranPublish: Mon, 16 May 2022 06:07 PM (IST)Updated: Mon, 16 May 2022 06:07 PM (IST)
26 को कविता पाठ के समंदर में डुबकी लगाएंगे जमुई वासी

फोटो- 16 जमुई- 9,34

- दो साल बाद संक्रमण की काली छाया से मुक्त होगा जागरण का कवि सम्मेलन

- पद्मश्री कवि सुरेंद्र दुबे के नेतृत्व में कविता पाठ करेंगे कविजन

- हास्य रचनाओं से कवि सम्मेलन को यादगार बनाएंगे कवि गौरव शर्मा

- वीर रस की कविताओं में गोता लगाने को मजबूर करेंगे कवि प्रख्यात मिश्रा

संवाद सहयोगी, जमुई : दो साल बाद 26 मई को संक्रमण की काली छाया से जागरण का कवि सम्मेलन मुक्त होगा। फलस्वरूप लंबे अंतराल के बाद एक बार फिर दैनिक जागरण के बैनर तले कविता पाठ के समंदर में जमुई वासी गोता लगा सकेंगे।

इस दफे कवियों की मंडली का नेतृत्व पद्मश्री सहित अन्य पुरस्कारों से सम्मानित हास्य कवि डा. सुरेंद्र दुबे कर रहे हैं। उनके साथ हास्य कवि गौरव शर्मा, वीर रस के कवि प्रख्यात मिश्रा तथा श्रृंगार रस की कवयित्री गौरी मिश्रा मंच की शोभा बढ़ाने के साथ-साथ श्रोताओं के दिलों दिमाग पर अपनी कविता पाठ से अमिट छाप छोड़ेंगे। छत्तीसगढ़ से जमुई की धरती पर डा. सुरेंद्र दुबे पहले भी जागरण के कवि सम्मेलन में कविता पाठ कर चुके हैं। बिहारी श्रोताओं की नब्ज को बेहतर तरीके से जानने वाले डा. दुबे बिहारी कांफिडेंस के कायल हैं। उनका साथ देने आ रहे गौरव शर्मा हास्य रस के नवोदित कवियों में से एक हैं। वह अपनी रचनाओं से श्रोताओं को हंसते-हंसते लोटपोट करने पर विवश कर देते हैं। कवि मंडली के उदीयमान सितारा प्रख्यात मिश्रा की वीर रस की ओजपूर्ण कविताएं हर एक भारतवासी के मन में देशभक्ति की भावनाएं उद्वेलित कर देती हैं। इस बार के कवि सम्मेलन में उनका भी जमुई वासी टीवी और मोबाइल स्क्रीन से निकलकर आमने-सामने दीदार कर सकेंगे। श्रृंगार रस की धारा बरसाने वाली कवयित्री गौरी मिश्रा किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। वह अपनी कविता पाठ से जमुई वासियों को मालामाल करने की भरपूर कोशिश करेंगी। जागरण के इस कवि सम्मेलन की तैयारी प्रारंभ कर दी गई है। इसको लेकर प्रशासनिक अनुमति से लेकर अन्य कवायद की जा रही है। कार्यक्रम का आयोजन केंद्रीय पुस्तकालय परिसर में होगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept