Rohtas: हत्‍यारोपित की गिरफ्तारी के लिए सड़क जाम, हटाने गई पुलिस पर हमला, थाने पर भी पथराव

बिक्रमगंज में शुक्रवार देर शाम मारपीट में युवक की हत्‍या को लेकर आरोपित की गिरफ्तारी के लिए लोगों ने सड़क जाम कर बवाल काटा। इस दौरान पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस पर गोली भी चलाई जाने की बात सामने आ रही है।

Vyas ChandraPublish: Sat, 08 May 2021 03:20 PM (IST)Updated: Sat, 08 May 2021 03:20 PM (IST)
Rohtas: हत्‍यारोपित की गिरफ्तारी के लिए सड़क जाम, हटाने गई पुलिस पर हमला, थाने पर भी पथराव

बिक्रमगंज (रोहतास), संवाद सहयोगी। शुक्रवार देर शाम मारपीट कर एक युवक की हत्या से गुस्‍साए लोगों ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए शनिवार को जमकर बवाल काटा। थाने के पास सड़क जाम कर दिया। जाम हटाने गई पुलिस पर लोगों ने हमला कर दिया। इस दौरान बिक्रमगंज थाने पर भी पथराव किया। फायरिंग की बात भी कही जा रही है। पथराव में छह पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। पुलिसकर्मियों का इलाज बिक्रमगंज अनुमंडल अस्पताल में हुआ। घटना के बाद वहां भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।

22 वर्षीय युवक की हुई थी हत्‍या  

घटना के संबंध में बताया जाता है कि किसी बात को लेकर बिक्रमगंज गांव के निवासी इलियास इंटफरोस के पुत्र 22 वर्षिय मो रियाज से उसी गांव के कुछ युवकों से पहले विवाद हुआ था। उनलोगों ने उसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी। मृतक के पिता के बयान पर पुलिस ने तीन नामजद अभियुक्तों पर प्राथमिकी दर्ज कर देर रात शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम भेज दिया। शनिवार को सुबह जैसे ही शव आया लोगों ने थाना के समीप सड़क जाम कर दिया। वे हत्‍यारे की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। 

पुलिस वाले पर किया पथराव, गोली भी चलाई  

सड़क जाम कर रहे लोगों को निषेधाज्ञा का हवाला देकर हटाने पुलिस पहुंची पर भीड़ ने पथराव कर दिया। पुलिस वालों के साथ ही वे थाने पर भी पथराव करने लगे। बाद में बड़ी संख्‍या में पुलिस के पहुंचने पर उपद्रवी शांत हुए। इस घटना में छह पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। इनमें एसआइ कुसुम कुमार केसरी, एएसआइ शत्रुघ्न सिंह सहित उपेंद्र कुमार, मुनेश्‍‍वर सिंह, सूरज कुमार, चंद्रशेखर शर्मा शा‍मिल हैं। उनका इलाज अनुमंडल अस्पताल में कराया गया। सभी खतरे से बाहर है।एसडीपीओ राजकुमार के अनुसार दो पुलिसकर्मी को पैर में छर्रा (गोली) लगने की आशंका है जो मेडिकल जांच से स्पष्ट होगा।

यह भी पढ़ें- Rohtas: दुकानें हटवाने गई पुलिस पर स‍ब्‍जी विक्रेताओं ने किया हमला, बचाव में करनी पड़ी फायरिंग

एसडीपीओ ने कहा-साजिश की आशंका 

उन्होंने बताया कि संभावना है कि किसी साजिश के तहत इस घटना को अंजाम दिया गया है। क्योंकि हत्या की घटना के पुलिस शीघ्र सक्रिय हुई और एक को गिरफ्तार किया। अन्य की गिरफ्तारी के लिए भी पुलिस काम कर रही थी। शव को भी रात होने के बावजूद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। बावजूद ऐसा किया गया। एसडीपीओ  ने बताया कि स्थिति पूर्णतः नियंत्रण में और सामान्य है। बताया जाता है कि थाना में पथराव के दौरान कुछ पुलिस ने भीड़ की ओर से फेके गए ईंट पत्थर को भीड़ की ओर फेंका, जिसमें कुछ अन्य लोगों के भी जख्मी होने की सूचना है। कुछ लोग पुलिस की ओर से भी हवा में फायरिंग करने की बात कह रहे हैं।हालांकि एसडीपीओ ने इसका खंडन किया है। उन्होंने कहा कि ऐसी कोई नौबत ही नहीं आई कि पुलिस को फायरिंग करनी पड़े। एसडीपीओ ने बताया कि इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

 

Edited By Vyas Chandra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept