बारिश व कोहरे से धान में बढ़ी नमी से खरीद पर असर, सासाराम के किसान बोले मनमानी कर रहे हैं पैक्स अध्यक्ष

बेमौसम बारिश और कोहरे ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। इसका असर धान की खरीदारी पर पड़ रहा है। किसानों का कहना है कि पैक्स सदस्य धान में नमी बता खरीद करने से टालमटोल करने रहे हैं।

Rahul KumarPublish: Sat, 29 Jan 2022 07:29 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 07:29 AM (IST)
बारिश व कोहरे से धान में बढ़ी नमी से खरीद पर असर, सासाराम के किसान बोले मनमानी कर रहे हैं पैक्स अध्यक्ष

जागरण संवाददाता,सासाराम।  पिछले 15 दिनों से जारी मौसम में उतार चढ़ाव की वजह से धान में आई नमी का असर अधिप्राप्ति कार्य पर दिखने लगी है। जिले में निर्धारित लक्ष्य 5.89 लाख टन के विरुद्ध शुक्रवार तक 3.10 लाख टन धान की खरीददारी ही पैक्सों व व्यापार मंडलों द्वारा की गई है। जबकि पिछले एक सप्ताह में महज 40 हजार टन की ही खरीद हो पाई। पैक्स अध्यक्ष मानते हैं कि मौसम की यही स्थिति रही तो 15 फरवरी तक धान खरीद के लिए निर्धारित लक्ष्य प्राप्त नहीं हो पाएगा।

किसानों का कहना है कि पैक्स सदस्य धान में नमी बता खरीद करने से टालमटोल करने रहे हैं। कई दिनों से हल्की बारिश व कोहरा से धान में नमी होना स्वाभाविक है। धान बेचने के लिए निबंधन कराए 21 हजार से अधिक किसान अभी भी नमी हटने का इंतजार कर रहे हैं। पैक्स अध्यक्ष बताते हैं कि धान अधिप्राप्ति लक्ष्य को पाने में गत 15 दिनों से प्रतिकूल मौसम रोड़ा बना हुआ है। राज्य में सर्वाधिक खरीद रोहतास जिला में होने के बाद भी अधिप्राप्ति लक्ष्य को पूरा करना किसी चुनौती से कम नहीं है।

'पैक्स अध्यक्ष कर रहे हैं मनमानी'

किसानों का कहना है कि पैक्स अध्यक्षों की आनाकानी की वजह से धान को फिर एक बार मजबूरी में साहूकारों को बेचना पड़ रहा है। घर में भंडारण की सुविधा नहीं होने से धान को खराब होने का खतरा बना रहता है। किसान राजेश्वर प्रसाद ने बताया कि कि नमी बढ़ने से खरीद की गति काफी धीमी है। जबतक मौसम साफ व धूप में गर्मी नहीं आएगी तब तक नमी दूर नहीं होगी। धान खरीद के लिए निर्धारित समय सीमा भी काफी नजदीक है जिससे किसानों की परेशानी बढ़ गई है।वहीं पैक्स सदस्यों का कहना है कि प्रशासन के निर्देश पर किसानों से अधिक से अधिक धान खरीदी की जा रही है।

जिला सहकारिता पदाधिकारी समरेस कुमार का कहना है कि जिले में धान अधिप्राप्ति का कार्य लक्ष्य के अनुरूप कर लिया जाएगा। 15 फरवरी तक धान क्रय करने की अंतिम तिथि तय की गई है। अभी तक तीन लाख टन से अधिक धान की खरीद की गई है। इस प्रकार से निर्धारित लक्ष्य के आधे से अधिक अधिप्राप्ति हो चुकी है। सभी पैक्स व व्यापार मंडल अध्यक्षों से निर्धारित लक्ष्य हर हाल में प्राप्त करने के लिए कहा गया है।

रोहतास प्रखंड वार धान खरीद की स्थिति 

प्रखंड किसान धान खरीद (टन में )

अकोढ़ीगोला 1222 14708.100

बिक्रमगंज 1122 12400.531

चेनारी 1519 18033.850

दावथ 1254 11556.800

डेहरी 1391 16460.600

दिनारा 2992 29311.225

काराकाट 2096 20463.830

करगहर 2891 30815.950

कोचस 1659 20385.000

नासरीगंज 1084 12411.100

नौहट्टा 891 8516.800

नोखा 1551 18674.721

राजपुर 1107 11393.500

रोहतास 928 9902.900

संझौली 734 8247.500

सासाराम 2973 28423.705

शिवसागर 1835 20659.543

सूर्यपुरा 660 6954.850

तिलौथू 1039 10156.200

Edited By Rahul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept