कैमूर: इंटरमीडिएट परीक्षा में बनाए गए चार आदर्श परीक्षा केंद्र, आदर्श केंद्रों पर छात्राएं देंगी परीक्षा

एक फरवरी से 17 फरवरी तक जिले के 24 परीक्षा केंद्रों पर इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा आयोजित होगी। परीक्षा में 21681 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसमें 10910 छात्राएं तथा 10771 छात्र शामिल होंगे। छात्राओं के लिए कुल 15 परीक्षा केंद्र तथा छात्रों के लिए कुल नौ परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

Prashant Kumar PandeyPublish: Sun, 23 Jan 2022 04:00 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 04:00 PM (IST)
कैमूर: इंटरमीडिएट परीक्षा में बनाए गए चार आदर्श परीक्षा केंद्र, आदर्श केंद्रों पर छात्राएं देंगी परीक्षा

 जासं, भभुआ: शिक्षा विभाग के सभागार में डीईओ विजय कुमार प्रसाद की अध्यक्षता में इंटरमीडिएट व वार्षिक माध्यमिक परीक्षा की तैयारी को लेकर सभी केंद्राधीक्षकों के साथ बैठक की गई। बैठक में डीईओ ने बताया कि एक फरवरी से 17 फरवरी तक जिले के 24 परीक्षा केंद्रों पर इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा आयोजित होगी। परीक्षा में 21681 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसमें 10910 छात्राएं तथा 10771 छात्र शामिल होंगे। छात्राओं के लिए कुल 15 परीक्षा केंद्र तथा छात्रों के लिए कुल नौ परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। मोहनियां अनुमंडल क्षेत्र की छात्राएं मोहनियां अनुमंडल मुख्यालय में ही बनाए गए परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा देंगी। 

चुनाव के आदर्श मतदान केंद्र की तर्ज पर छात्राओं के लिए आदर्श परीक्षा केंद्र बनाया गया है। जिसके लिए शहीद संजय सिंह महिला महाविद्यालय, श्रीमती उदासी देवी उच्च विद्यालय अखलासपुर, शारदा ब्रजराज उच्च विद्यालय मोहनियां व प्रोजेक्ट शांति बालिका उच्च विद्यालय मोहनियां का चयन किया गया है। इन परीक्षा केंद्रों को समारोह की तरह सजाया जाएगा। तोरण द्वार बनाए जाएंगे। केंद्रों के परिसर में कारपेट बिछाया जाएगा। वहीं वार्षिक माध्यमिक परीक्षा के लिए जिले में कुल 26 परीक्षा केंद्र निर्धारित किए गए हैं। जिसमें भभुआ में 15 तथा मोहनियां में 11 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इन परीक्षा केंद्रों पर कुल 30322 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। इस परीक्षा में छात्र-छात्राओं की संख्या देखी जाए तो कुल 15179 छात्र व 15143 छात्राएं परीक्षा में भाग लेंगी। 

परीक्षा में भाग लेने वाले 15 से 18 आयु वर्ग के सभी परीक्षार्थियों को कोरोना का टीका लेना अनिवार्य कर दिया गया है। इस संबंध में सभी परीक्षार्थियों एवं उनके अभिभावकों से अपील की गई है कि वे अपने बच्चों को टीका लगवा दें। परीक्षा केंद्र पर एडमिट कार्ड के साथ टीकाकरण प्रमाण पत्र की जांच कर ही परीक्षा में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी। किसी भी परिस्थिति में भी बिना टीका लिए हुए परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

Edited By Prashant Kumar Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept