औरंगाबाद: आग से जलकर अधेड़ की मौत, झुलसकर एक घायल, जलने से दो घर राख

हथियावां गांव में उमेश भुईयां के घर में शुक्रवार की रात बिजली की शार्ट सर्किट से आग लग गई। जिससे फूस का बना दो घर जलकर राख हो गया। आग लगने की सूचना पर उमेश के घर पड़ोसी 58 वर्षीय शिवनंदन भुइंया पहुंचे।

Prashant Kumar PandeyPublish: Sat, 22 Jan 2022 05:31 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 05:31 PM (IST)
औरंगाबाद: आग से जलकर अधेड़ की मौत, झुलसकर एक घायल, जलने से दो घर राख

 संवाद सूत्र, मदनपुर (औरंगाबाद) : प्रखंड के पिरवां पंचायत के पिपराडीह टोले हथियावां गांव में उमेश भुईयां के घर में शुक्रवार की रात बिजली की शार्ट सर्किट से आग लग गई। जिससे फूस का बना दो घर जलकर राख हो गया। आग लगने की सूचना पर उमेश के घर पड़ोसी 58 वर्षीय शिवनंदन भुइंया पहुंचे। झुलसने से शिवनंदन की मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि पड़ोसी शिवनंदन भुइंया आग की आगोश में फंसे लोगों को निकलने के दौरान स्वयं झुलसकर गंभीर रूप से घायल हो गए। घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। आग से दो घर जल गया है। घर में रखा सारा सामान जलकर राख हो गया है। 

मुखिया और ग्रामीणों के सहयोग से बचाए गए अन्य लोग

मुखिया जनेश्वर यादव एवं ग्रामीणों के सहयोग से घर में फंसे अन्य लोगों को बचाया गया। ग्रामीणों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। मुखिया ने पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया और सरकार से उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। साथ ही आग की चपेट में आकर उमेश भुइंया के घर में रखा खाने पीने के समान सहित कपड़ा, खटिया चौकी जलकर खाक हो गया। ग्रामीणों ने बताया कि करीब 20-30 हजार रुपये की संपत्ति आग लगने से नुकसान हुआ है। सूचना पर शनिवार की सुबह सलैया थाने की पुलिस पहुंची और घटना की जानकारी ली। 

मृतक के परिवार का रो-रोकर बुरा हाल

थानाध्यक्ष अजय शंकर ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करा स्वजनों को सौंप दिया गया है। शिवनंदन की पत्नी कौशल्या देवी घटना के बाद से रो रही है। उनके तीन पुत्र सुनील, अनील, अजीत अचानक हुए हादसे से मर्माहत हैं। घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में शोक का माहौल है शार्ट सर्किट से लगी आग की बात जैसे ही क्षेत्र के लोगों को पता चली थी वह घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े थे। इसी दरमियान शिवनंदन भी अपने पड़ोसी की मदद करने और आग में फंसे लोगों को निकालने का प्रयास कर रहे थे इसी प्रयास के दौरान वह भी अंदर फंस गए और झूलस कर मौत हो गई।

Edited By Prashant Kumar Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept