अंतरराष्ट्रीय मंच पर पूर्वी चंपारण की रही दमदार उपस्थिति, डीएम ने रखा पक्ष

मोतिहारी चंपारण के लिए शुक्रवार का दिन ऐतिहासिक रहा। जिले की उपलब्धि दुनिया के समक्ष शायद पहली बाद रखा गया है।

JagranPublish: Fri, 29 Oct 2021 11:01 PM (IST)Updated: Fri, 29 Oct 2021 11:01 PM (IST)
अंतरराष्ट्रीय मंच पर पूर्वी चंपारण की रही दमदार उपस्थिति, डीएम ने रखा पक्ष

मोतिहारी : चंपारण के लिए शुक्रवार का दिन ऐतिहासिक रहा। जिले की उपलब्धि दुनिया के समक्ष शायद पहली बाद रखा गया है। यह उपलब्धि है टीकाकरण में सफलता की। टीकाकरण को लेकर जिस प्रकार जिले ने अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है उससे देश ही नहीं दुनिया के अन्य देशों व डब्ल्यूएचओ प्रभावित हुआ है। यहीं कारण है कि जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक को सफलता का श्रेय देते हुए इस सेमिनार में सफलता के बारे में बोलने का अवसर दिया गया। यह जिले के लिए गौरव की बात इसलिए भी है कि राज्य के अन्य किसी जिले को इसमें शामिल नहीं किया गया। पूर्वी चंपारण सूबे का इकलौता जिला बना जो सफलता का रॉल मॉडल के रूप में देखा गया। जिलाधिकारी के नेतृत्व में इस सफलता की कहानी एक छोटे से पंचायत व प्रखंड से शुरू हुई। डीएम ने कहा कि कोरोना के कहर के बीच टीकाकरण को लेकर उत्पन्न भ्रम से प्रारंभिक चरण में परेशानी हुई। टीकाकरण की रफ्तार धीमी रही। लेकिन माइक्रोप्लान बनाकर कार्य प्रारंभ किया गया। बनकटवा के छोटे से पंचायत बीजबनी सफलता का उदाहरण बना। पंचायत शत प्रतिशत टीकाकरण का गवाह बना। फिर बनकटवा सूबे का पहला शत प्रतिशत टीकाकरण करने वाला प्रखंड बना। तब ऐसा लगा कि इसे पूरे जिले में प्रयोग किया जाए तो टीकाकरण को सफल बना लोगों को सुरक्षित किया जा सकता है। इस सफलता के बाद अधिकारियों, स्वास्थ्यकर्मियों व आम लोगों में नया उत्साह का संचार हुआ। फिर एक के बाद एक प्रखंड व नगर निकाय शत प्रतिशत का लक्ष्य पूरा किया। पहले डोज में जिला शत प्रतिशत उपलब्धि हासिल कर चुका है। देश के तीन आइएएस अधिकारी बेबीनार में हुए शामिल

डब्ल्यूएचओ द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ब्राइट स्पॉटस इन कोविड-19 मैनेजमेंट इन इंडिया वैक्सीनेशन सक्सेस स्टोरी ग्लोबल बेमिनार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें 3 आईएएस पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया था। जिसमें से पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक आमंत्रित थे। कार्यक्रम का आयोजन डॉक्टर सौम्या स्वामीनाथन, चीफ साइंटिस्ट डब्ल्यूएचओ एवं सीके मिश्रा, फॉर्मर सेक्रेट्री मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर के तत्वाधान में आयोजित किया गया। पूरे दुनिया में वैक्सीनेशन में अव्वल कार्य करने वाले पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी के कार्यों की सराहना की गई। कहा कि जिले भर में 34 लाख 75 हजार लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। 18 लाख 78 हजार लोगों का टेस्टिग किया जा चुका है। टीकाकरण अभियान को सफल बनाने में जीविका, स्वास्थ्य विभाग, सेविका, सहायिका, आशा, एएनएम, डीलर, शिक्षा विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों का सहयोग प्राप्त हुआ।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept