गलती करे लोग के सजा मिल जाइत, ताकि अब केहू माई बहिन के कोख सून न होखे

बक्सर मुरार थाना क्षेत्र के आमसरी गांव में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत होने से

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 09:51 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 09:51 PM (IST)
गलती करे लोग के सजा मिल जाइत, ताकि अब केहू माई बहिन के कोख सून न होखे

बक्सर : मुरार थाना क्षेत्र के आमसरी गांव में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत होने से कई घरों का अमन चैन छीन लिया है। लगातार दूसरे दिन इस गांव में मातमी सन्नाटा पसरा रहा। शुक्रवार को इसकी झलक गांव की गलियों में साफ दिखी। कही-कही इक्के-दुक्के नन्हें-मुन्हें बच्चे दिखे तो कहीं बूढ़ी काया लिए पुआल पर बैठे बुजूर्ग। मसारी गांव स्थित अनुसूचित बस्ती में सुखू मुसहर की मौत के बाद सुखी नहर में बाल बच्चों के साथ बैठी मृतक की पत्नी तेतरी देवी का कहना है कि ए हुजूर! बुधवार की शाम तक एह गांव के कुल्हि घर आंगन खुशहाल रहे, बाकी एक साथ आधा दर्जन लोगन के मौत से दहशत मच गईल बा। सुननी हा कि डीएम आ एसपी साहब के एह घटना के बारे में सांच-सांच जानकारी मिल गईल.. बड़ा निमन बा कि गलती करे लोग के सजा मिल जाइत, ताकि अब केहू के माई बहिन के मांग व कोख सून होखे से बच जाइत..। मृतक शिव मोहन यादव की पत्नी सावित्री देवी शोक में बेसुध पड़ी हैं। इनकी कोई संतान नहीं होने के चलते अंतिम संस्कार गोतियां के कमलेश यादव कर रहे हैं। इस बूढ़ी काया के अल्फाजों में दर्द साफ झलक रहा था। हर शब्द में इस घटना का अफसोस, पश्चाताप तथा दुख का बहुत गहरा भाव था। चलते-चलते मृतक की पत्नी ने यह कह कर फफक पड़ी कि शराब छोड़े खातीर हमारा कसम के भी लाज ना निभवले.. मजदूरी करके दू पैसा मिलत रहे त भरपेट भोजन नसीब होत रहे.., बाकी अब सब लूट गईल। अपने दो सगे पुत्रों की मौत का दारुण दुख झेल रहे इस गांव के कामेश्वर सिंह बिलखते हुए कहते हैं कि दारू से हसत खेलत हमार परिवार उजड़ गईल हो दादा.., शिक्षक भिरुग सिंह की पत्नी रानी देवी पति की मौत के बाद बदहवास हैं। इसी घर में दूसरे शिक्षक बंटी सिंह की मौत की बाद परिवार के लोगों पर विपत्ति का पहाड़ टूट पड़ा है। शराब कांड में सबसे पहले मौत के शिकार हुए आनंद सिंह के घर में पत्नी रेणु देवी का रो रो कर बुरा हाल है। दोनों पुत्र गणेश सिंह और शिवम सिंह कोने में बैठ कर सुबकते दिखे। दरवाजे पर पहुंचने वाले लोगों को समझ में नहीं आ रहा है कि कौन किसको समझाएं, तथा किस दम पर ढांढस बंधाए। मृतक मिकू सिंह की पत्नी कुसुम देवी पति की मौत के बाद से ही बेसुध पड़ी है। अंतिम संस्कार कर रहे मृतक के भाई धर्मेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि सगे भाई की मौत से परिवार में मातम का माहौल है। एक तरफ भाई की मौत तो दूसरी तरफ पुलिस की कार्रवाई से जीना मुहाल हो गया है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept