खगडिय़ा में जुटेंगे माकपा के दिग्गज नेता, अगले महीने होगा जिला सम्मेलन

खगडिय़ा में अगले महीने माकपा के दिग्गज नेता जुटेंगे। जिला सम्मेलन 19-20 फरवरी को बेलदौर प्रखंड के केहर मंडल टोला में आयोजित है। जिसमें दो सौ से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे। जिला सम्मेलन में माकपा के प्रदेश नेतृत्व के नेताओं की भी भागीदारी होगी।

Abhishek KumarPublish: Mon, 24 Jan 2022 03:11 PM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 03:11 PM (IST)
खगडिय़ा में जुटेंगे माकपा के दिग्गज नेता, अगले महीने होगा जिला सम्मेलन

जागरण टीम, गोगरी, परबत्ता (खगडिय़ा)। माकपा का परबत्ता और गोगरी अंचल संपन्न हुआ। अब पार्टी जिला सम्मेलन की तैयारी में जुट गई है। जिला सम्मेलन 19-20 फरवरी को बेलदौर प्रखंड के केहर मंडल टोला में आयोजित है। जिसमें दो सौ से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे। जिला सम्मेलन में माकपा के प्रदेश नेतृत्व के नेताओं की भी भागीदारी होगी। विभूतिपुर से माकपा विधायक अजय कुमार भी खगडिय़ा जिला सम्मेलन में भाग लेंगे। इसकी जानकारी जिला सचिव संजय कुमार ने दी।

परबत्ता अंचल सम्मेलन तेमथा करारी पंचायत की सामुदायिक भवन में आयोजित किया गया। शहीद जगदीश चंद्र बसु नगर तेमथा में आयोजित सम्मेलन का संचालन सुरेश यादव और रामविलास दास ने किया। सम्मेलन का उदघाटन जिला सचिव मंडल सदस्य हरेराम चौधरी ने किया। सम्मेलन में उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा कि

आज नोटबंदी से लेकर जीएसटी तक देश के करोड़ों मजदूर बेरोजगार हो गए। आम लोगों की आमदनी घट गई है। मजदूरों के अधिकार पर हमले किए जा रहे हैं। सम्मेलन में अंचल मंत्री सुनील कुमार मंडल ने पिछले चार साल का लेखा-जोखा पेश किया। इसके बाद नई अंचल कमेटी का गठन किया गया। तीन साल के लिए 16 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया। सर्वसम्मति से नवीन चौधरी को परबत्ता अंचल सचिव चुना गया। अंचल कमेटी में सुरेश यादव, ललन यादव, मंटू मिश्र, उदय कांत ङ्क्षसह, सुनील कुमार मंडल, रामचरित्र शर्मा, अजय चौधरी, रामप्रवेश चौधरी, कमलेश्वरी शर्मा, जमादार शर्मा, नवीन चौधरी, सुमन चौधरी, रामविलास दास, ओमप्रकाश ङ्क्षसह, मणिकांत मिश्र, फिरोज आलम शामिल किए गए हैं। जिला सम्मेलन के लिए 23 प्रतिनिधियों का भी चुनाव किया गया।

गोगरी अंचल सम्मेलन उसरी गांव में संपन्न हुआ। इस मौके पर माकपा नेताओं ने जिला प्रशासन को आड़े हाथों लिया। कहा कि आज किसान खाद के लिए दर-दर की ठोकर खा रहे हैं। यूरिया की कालाबाजारी हो रही है। इस ओर प्रशासन उदासीन है। कालाबाजारियों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। सम्मेलन में सर्वसम्मति से वीरेंद्र यादव को गोगरी अंचल सचिव चुना गया।

 

Edited By Abhishek Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept