Teacher recruitment in Bihar : शिक्षकों की काउंसिलिंग, भागलपुर में यहां बनाए गए हैं केंद्र

Teacher recruitment in Bihar भागलपुर में शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यहां 150 शिक्षकों का नियोजन होना है। इसमें नगर निगम में 85 नगर पंचायत नवगछिया में 65 शिक्षकों को नियुक्‍त किए जाएंगे।

Dilip Kumar ShuklaPublish: Wed, 19 Jan 2022 06:35 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 06:35 AM (IST)
Teacher recruitment in Bihar : शिक्षकों की काउंसिलिंग, भागलपुर में यहां बनाए गए हैं केंद्र

जागरण संवाददाता, भागलपुर। कक्षा एक से पांच तक के शिक्षकों के नियोजन के लिए तृतीय चक्र की काउंसिलिंग बुधवार को होगी। नगर निगम में 85, नगर पंचायत नवगछिया में 65 समेत 150 शिक्षकों का नियोजन होना है। जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि काउंसिलिंग की तैयारी पूरी कर ली गई है। नगर निगम क्षेत्र के लिए काउंसिलिंग सेंटर जिला स्कूल को, नगर पंचायत नवगछिया क्षेत्र का काउंसिलिंग सेंटर राजकीय बालिका उच्च विद्यालय में बनाया गया है।

काउंसिलिंग की प्रक्रिया में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना है। शिक्षक नियोजन के लिए पहुंचने वाले अभ्यर्थी मास्क पहन कर ही काउंसिलिंग केंद्र पर पहुंचेंगे। केंद्र पर अभ्यर्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की जाएगी। प्रत्येक नियोजन इकाई द्वारा काउंसिलिंग के दिन शाम पांच बजे तक रिक्त पदों के आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची जारी की जाएगी और चयन की सूचना जिला मुख्यालय को देंगे।

चयनित अभ्यर्थियों की सूची को एनआइसी के वेबपोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। प्रखंड नियोजन इकाई शाहकुंड की काउंसिलिंग 25 जनवरी को राजकीय बालिका उच्च विद्यालय में होगी। वहीं विभिन्न प्रखंडों से जुड़े पंचायत नियोजन इकाइयों की काउंसिलिंग 28 जनवरी को होगी।

बच्‍चों का पठन-पाठन नहीं हो प्रभावित

संवाद सूत्र, जगदीशपुर। कोरोना के कराण स्कूल बंद हो गया। स्कूल बंद होने से बच्चों के शिक्षण पर असर पड़ने लगा है। बच्चों का पढ़ाई से ज्यादा दूरी ना हो जाए इसके लिए प्रखंड के शिक्षकों के द्वारा शैक्षणिक गतिविधि बनाए रखने का प्रयास शुरू कर दिया गया है। मध्य विद्यालय जगदीशपुर के शिक्षकों ने बच्चों के बीच शैक्षणिक गतिविधि बनाने का प्रयास कर रहे हैं। प्रधानाध्यापक आशुतोष चन्द्र मिश्र ने कहा कि बच्चे के बीच शैक्षणिक कार्य का क्रम बना रहे, इसलिए वर्ग छह से आठ के बच्चों को मेरा दूरदर्शन मेरा विद्यालय पर कार्यक्रम देखने के लिए प्रेरित करते हुए संबंधित वर्ग का अलग-अलग ग्रुप बनाकर शैक्षणिक गतिविधि संचालित करते हैं। इसकी शुरूआत मंगलवार से कर दी गयी है। शिक्षिका मीनाक्षी के द्वारा वर्ग चार और पांच के करीब बीस बच्चों को पढ़ाया। ये सुविधा बच्चों के घर के आस-पास ही दिया जा रहा है। इसके अलावे भी वर्ग एक से पांच के बच्चों के लिए स्थानीय शिक्षक घर पर छोटे छोटे समूह में शैक्षणिक गतिविधि संचालित करते हैं। इस कार्य में बच्चों के साथ साथ अभिभावकों तथा शिक्षक बिन्दु , कल्पना, नवल वासुदेव का काफी सहयोग मिल रहा है ।

Edited By Dilip Kumar Shukla

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept