This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

सोनार की दुकान में डकैती की साजिश रचते कुख्यात सुनील पाठक गिरफ्तार

सुनील पाठक कोतवाली इलाके में हुई व्यवसायी संतोष झुनझुनवाला की हत्या मामले में भी जेल गया था। उस पर नवगछिया में पेट्रोल पंप में हुई लूट में शामिल होने का केस दर्ज हैं।

Dilip ShuklaMon, 03 Dec 2018 09:07 PM (IST)
सोनार की दुकान में डकैती की साजिश रचते कुख्यात सुनील पाठक गिरफ्तार

भागलपुर [जेएनएन]। सजा सुनाने के पूर्व कोर्ट परिसर से 26 सितंबर 2018 को फरार हुआ एक दर्जन से ज्यादा मामले के आरोपित कोतवाली इलाके के मारवाड़ी टोला लेन, सोनापट्टी निवासी कुख्यात सुनील पाठक उर्फ सुनील शर्मा को रविवार की रात मोजाहिदपुर पुलिस ने सोनार की दुकान में लूटपाट करने से पहले ही दबोच लिया। पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल (मेड इन यूएसए लिखा हुआ), आठ गोली और बिना नंबर की दो बाइक बरामद की है। यह जानकारी सोमवार को मोजाहिदपुर थाने में आयोजित प्रेसवार्ता में सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने दी।

तीन बदमाश भागने में रहे सफल, एक की हुई पहचान

सिटी डीएसपी ने कहा कि एसएसपी आशीष भारती के निर्देश पर देर रात पुलिस रोको टोको अभियान चला रही है। इसी के तहत मोजाहिदपुर थानेदार अमर विश्वास ने दारोगा अरविंद कुमार सिंह को शीतला स्थान रोड में चेकिंग करने को कहा था। तभी रतन ज्वैलर्स के समीप दो बाइक लगाकर चार युवक पुलिस को दिखे। पुलिस को देखते ही वे लोग बाइक छोड़कर भागने लगे। लेकिन पुलिस ने एक व्यक्ति को खदेड़कर पकड़ लिया। जिसकी पहचान सुनील पाठक के रूप में हुई। पूछताछ में उसने बताया कि भागने वाले में एक मंदरोजा निवासी हर्ष सिंह राठौड़ उर्फ बबन कुमार शामिल था। अन्य दो बदमाशों के बारे में उसने अपने मुंह पर चुप्पी साध ली।

सजा सुनाने के पहले ही कोर्ट परिसर से हो गया था फरार

भागलपुर-बांका मुख्य सड़क पर जगदीशपुर स्थित सरोजनी फिलिंग स्टेशन नामक पेट्रोल पंप के कर्मियों से 9 फरवरी 2015 को 5.89 लाख रुपए लूटने मामले में सजा सजा सुनाने से पहले ही सुनील पाठक और उसके साथी सेशन कोर्ट में उपस्थित होने से पहले ही फरार हो गए। इसके बाद एडीजे-7 विनय कुमार मिश्र की अदालत ने चारों की इस दुस्साहस पर सभी की जमानत खारिज करते हुए गिरफ्तारी का आदेश दिया। वहीं गिरफ्तारी में देरी पर संपत्ति कुर्क करने का भी आदेश दिया है। गौरतलब है कि सुनील पाठक 2015 में लूट के समय ही ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया था। उसकी जमकर पिटाई हुई थी।

व्यवसायी संतोष झुनझुनवाला की हत्या मामले में गया था जेल

सुनील पाठक कोतवाली इलाके में हुई व्यवसायी संतोष झुनझुनवाला की हत्या मामले में भी जेल गया था। उस पर नवगछिया में पेट्रोल पंप में हुई लूट में शामिल होने का केस दर्ज हैं। इसके अलावा सात जून 2017 को भी कोर्ट हाजत में सुनील पाठक समेत अन्य कुख्यातों ने कुछ कैदियों के साथ मारपीट की थी। उन लोगों ने वहां तैनात पुलिस वालों को गोली मारने की धमकी भी दी थी। इस मामले में तिलकामांझी पुलिस चौकी में सुनील समेत अन्य शातिरों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। तिलकामांझी चौकी प्रभारी संजय सत्यार्थी ने कहा कि इस मामले में पुलिस सुनील को रिमांड पर लेगी।

भागलपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!