कल्याणपुर स्टेशन पर लोगों ने पैसेंजर ट्रेन को रोक कर किया विरोध-प्रदर्शन, भागलपुर-दानापुर इंटरसिटी के ठहराव की मांग

कल्याणपुर स्टेशन पर भागलपुर-दानापुर इंटरसिटी के ठहराव की मांग को लेकर आंदोलन तेज हो गया है। गुरुवार को स्थानीय लोगों ने पैसेंजर ट्रेन को रोक कर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही उन लोगों ने रेलवे को इसके लिए 15 दिनों का समय दिया है।

Abhishek KumarPublish: Thu, 05 Aug 2021 03:29 PM (IST)Updated: Thu, 05 Aug 2021 03:29 PM (IST)
कल्याणपुर स्टेशन पर लोगों ने पैसेंजर ट्रेन को रोक कर किया विरोध-प्रदर्शन, भागलपुर-दानापुर इंटरसिटी के ठहराव की मांग

संवाद सूत्र बरियारपुर (मुंगेर)। कल्याणपुर स्टेशन पर भागलपुर-दानापुर इंटरसिटी के ठहराव को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है । जिप उपाध्यक्ष दुर्गेश सिंह के नेतृत्व में कल्याणपुर स्टेशन में प्रदर्शन किया व पैसेंजर ट्रेन को जबरन रोक दिया। प्रदर्शन कर रहे लोग कल्याणपुर स्टेशन पर दानापुर-इंटरसिटी एक्सप्रेस के ठहराव नहीं होने से होने वाली परेशानियों से काफी आक्रोशित थे। लोगों का कहना था कि वे इसकी मांग काफी समय से कर रहे हैं। 

-प्रदर्शन की सूचना पर दल के साथ पहुंचे आरपीएफ के सहायक कमांडेंट

-15 दिनों में नहीं मिला ठहराव तो तेज होगा आंदोलन, रेल चक्का जाम की धमकी

मांगे पूरी नहीं होने के बाद शुरू होगा धरना-प्रदर्शन

जिप उपाध्यक्ष ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से इंटरसिटी एक्सप्रेस के ठहराव के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। पूर्व में हम लोगों ने डीआरएम को इस ट्रेन के स्टेशन पर ठहराव के लिए आवेदन दिया था तथा बीच-बीच में टेलीफोन से भी उनसे ठहराव की प्रगति के बारे में पूछताछ की। लेकिन, ट्रेन का ठहराव नहीं दिया गया। 15 दिनों में ठहराव नहीं दिया गया तो स्टेशन पर धरना प्रदर्शन के अलावा रेल चक्का जाम किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने लगभग पांच मिनट तक रेलवे स्टेशन पर जमालपुर पैसेंजर ट्रेन को रोके रखा।

डीआरएम बोले- ग्रामीणों की मांगों पर किया जाएगा विचार

ग्रामीणों ने ट्रेन ठहराव के लिए धरना की जानकारी मिलने पर आरपीएफ के सहायक कमांडेंट एके ङ्क्षसह पुलिस बल के साथ सुबह से कल्याणपुर रेलवे स्टेशन थे। उन्होंने प्रदर्शन कर रहे लोगों से कहा कि उन लोगों की बात को उन्होंने डीआरएम तक पहुंचा दी है ।डीआरएम ने कहा है कि ग्रामीणों का एक या दो सदस्य प्रतिनिधिमंडल आकर उन्हें आवेदन दें । उनके आवेदन पर विचार कर ठहराव के लिए रेलवे के वरीय पदाधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। इस आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने अपने आंदोलन को समाप्त कर दिया। प्रदर्शन में मुखिया सुनील सोलंकी सहित विभिन्न गांवों के लोग शामिल थे।

 

Edited By Abhishek Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept