43 करोड़ की लागत से बना मंगलबाजार रेल ओवरब्रिज, तोड़ा जाएगा 1964 में बना ब्रिज, पढ़ें क्या बोले डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद

बिहार के कटिहार जिले के मंगलबाजार में रेल ओवरब्रिज का उद्घाटन कर दिया गया है। इसके बाद से इसपर वाहनों का परिचालन शुरू हो गया है। 43 करोड़ की लागत से बना ये पुल अत्याधुनिक तरीके से बनाया गया है। वहीं पुराने ब्रिज को तोड़ दिया जाएगा।

Shivam BajpaiPublish: Sat, 29 Jan 2022 03:45 PM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 03:45 PM (IST)
43 करोड़ की लागत से बना मंगलबाजार रेल ओवरब्रिज, तोड़ा जाएगा 1964 में बना ब्रिज, पढ़ें क्या बोले डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद

संवाद सहयोगी, कटिहार: उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व सांसद दुलाल चंद गोस्वामी द्वारा 43 करोड़ की लागत से बने नवनिर्मित मंगलबाजार रेल ओवरब्रिज का उद्घाटन के बाद नए पुल से आवागमन शुरू हो गया है। तत्काल नए पुल से 12 टन भार क्षमता के वाहनों को आवागमन की स्वीकृति दी गई है। हालांकि, नए ओवरब्रिज की भार क्षमता 20 टन तक होगी। बताते चलें कि नया ओवरब्रिज बनने के बाद इसके समीप पुराने ओवर ब्रिज को तोड़ा जाएगा। उद़्घाटन समारोह के मौके पर बरारी विधायक वियज सिंह, निवर्तमान एमएलसी अशोक अग्रवाल, पूर्व सांसद निखिल कुमार चौधरी, जिलाधिकारी उदयन मिश्रा, पुलिस अधीक्षक जितेंद्र कुमार,सदर एसडीओ शंकर शरण ओमी, वरीय मंडल वाणिज्य प्रबंधक अमर मोहन ठाकुर, सीनियर डीएन फोर दिनेश कुमार सहित वरीय रेल पदाधिकारी मौजूद थे।

इस मौके पर डिप्टी सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश व सीएम के नेतृत्व में राज्य का चौमुखी विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि जिले में विकास संबंधी कई योजना जल्द ही शुरू की जाएगी। कटिहार से बेंगलुरू के बीच सीधी रेल सेवा का परिचालन जल्द ही शुरू होगा। रेल मंत्रालय से इसकी स्वीकृति मिल चुकी है। डिप्टी सीएम ने कहा की एनडीए सरकार में विकास कार्य तेजी से किया जा रहा है। शहर में जलजमाव की समस्या से निजात को लेकर वाटर ड्रेनेज सिस्टम के तहत तीन फेज में कार्य किया जाएगा।

डिप्टी सीएम ने बताया की मनिहारी गंगा घाट के सुंदरीकरण व शवदाह गृह के लिए निविदा हो गई है। काढ़ागोला गंगा घाट का भी सुंदरीकरण भी कराया जाएगा। डिप्टी सीएम ने कहा कि पुल निर्माण में जिन 24 दुकानों को तोड़ा गया है, उन दुकानदारों को रेल व जिला प्रशासन के सहयोग से दुकान के लिए वैकल्पिक स्थान दिया जाएगा। सीमांचल एक्सप्रेस के कोच में बदलाव कर रेल यात्रियों को अतिरिक्त सुविधा दी जाएगी।

सांसद ने कहा कि छीटाबाड़ी व भगवान चौक पर आरओबी का निर्माण की स्वीकृति मिल चुकी है। इस अवसर पर राज्य सभा सांसद अहमद अशफाक करीम के प्रतिनिधि समरेंद्र कुणाल,भाजपा जिला अध्यक्ष लक्खी प्रसाद महतो,जदयू जिलाध्यक्ष शमीम इकबाल, वीआइपी पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रकाश कुमार सहित एनडीए कार्यकर्ता मौजूद थे।

नवनिर्मित पुल की क्षमता 20 टन

  • रेल ओवरब्रिज के उद्घाटन को लेकर शहर के लोग भी उत्साहित थे।
  • यह ओवर ब्रिज शहर का लाइफ लाइन माना जाता है।
  • नए पुल का निर्माण व उद्घाटन होने के बाद 1964 में बने पुराने ओवरब्रिज को तोड़ा जाएगा।
  • नवनिर्मित पुल 1200 मीटर लंबा व 12 मीटर चौड़ा है। इस पुल की भार वहन क्षमता 20 टन है।
  • तत्काल 12 टन लोड सामान के आवागमन की स्वीकृति दी गई है।
  • सांसद ने 20 टन भार क्षमता के आवागमन की स्वीकृति दिलाने को लेकर पहल करने का आश्वासन दिया।

रेल सुविधा में होगी बढ़ोतरी

डिटी सीएम ने कहा कि दक्षिण भारत के लिए सीधी रेल सेवा की सौगात जिलावासियों को मिलेगी। जल्द ही कटिहार से बेंगलुरू के बीच ट्रेन परिचालन शुरू होगा। इसके अतिरिकत् कई सुपर फास्ट ट्रेन के कोच में बदलाव किया जाएगा। कटिहार मुकरिया,कटिहार-कुमेदपुर,बारसोइ-राधिकापुर,कटिहार-जोगबनी व कटिहार -मनिहारी रेलखंड के दोहरीकरण का काम भी कराया जाएगा। भगवान चौक एवं छींटाबाड़ी रेल फाटक पर आरओबी निर्माण की स्वीकृति मिल गई है।

सांसद ने इस मौके पर कहा कि कोलासी से दलन तक 550 किलोमीटर बाईपास सड़क फोरलेन में मिलेगा। हाजीपुर के समीप से कारीकोसी घाट होते हुए शरीफगंज के समीप रेल आरओबी के समीप भी बाईपास सड़क निर्माण की स्वीकृति मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि मनिहारी साहिबगंज के बीच गंगा नदी पर पुल निर्माण का काम तेजी चल रहा है। लाभा के समीप 600 मीटर की लंबाई में एनएच 81 के निर्माण के लिए 22 करोड़ की राशि की स्वीकृति मिल गई है।

Edited By Shivam Bajpai

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept