Indian Railways: पुणे से भागलपुर पहुंची स्पेशल ट्रेन के आठ यात्री कोरोना संक्रमित, जांच रिपोर्ट आने पर यात्रियों में हड़कंप

Indian Railways पुणे से यात्रियों को लेकर भागलपुर पहुंची स्‍पेशल ट्रे्न के आठ पैसेंजर संक्रमित पाए गए हैं। जंक्‍शन पर रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही हड़कंप मच गया। इसके बाद बाकी के भी सारे यात्री को जांच की गई।

Abhishek KumarPublish: Mon, 12 Apr 2021 08:10 PM (IST)Updated: Mon, 12 Apr 2021 08:10 PM (IST)
Indian Railways:  पुणे से भागलपुर पहुंची स्पेशल ट्रेन के आठ यात्री कोरोना संक्रमित, जांच रिपोर्ट आने पर यात्रियों में हड़कंप

जागरण संवाददाता, भागलपुर। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए रेलवे की ओर से महाराष्ट्र (पुणे) के बीच चार जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही है। सोमवार को पुणे से पहली ट्रेन भागलपुर जंक्शन पहुंची। इस ट्रेन से महज 110 पैसेंजर ही उतरे। एक-एक कर कोरोना की जांच हुई। इसमें से आठ लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। इसके बाद स्टेशन पर हड़कंप मच गया। कोई इनके पास नहीं आना चाह रहे थे। संक्रमित प्रवासियों को एंबुलेंस से आइसोलेशन वार्ड और घर भेजा गया। दरअसल, जंक्शन पर जांच काउंटरों की संख्या बढ़ाने के बाद जांच कराने वालों में इजाफा हुआ है। नोडल पदाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर कुमार पूरे दिन जांच का मॉनीटरिंग करते रहे। तकनीशियनों को विशेष दिशा-निर्देश दिए।

जांच कराने को बनाया जा रहा दबाव

जंक्शन पर पुणे, दिल्ली के अलावा दूसरी ट्रेनों से आने वाले यात्रियों को कोरोना जांच कराने के लिए लगातार कहा जा रहा है। सीआइटी आरएन पासवान पूछताछ काउंटर से ट्रेन आने पर लगातार उद् घोषणा कराते रहे। मुख्य गेट पर ट्रेन से पकडऩे वाले यात्रियों को ऑटोमेटिक थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही इंट्री मिली।

होम आइसोलेट जाना पसंद कर रहे पैसेंजर

ट्रेन से उतरने के बाद यात्रियों की कोरोना की जांच हो रही है। जांच के बाद जिन यात्रियों की रिपोर्ट पॉजीटिव आती है, उन्हेंं अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भेजने की व्यवस्था जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से एंबुलेंस की व्यवस्था की गई है। लेकिन पॉजीटिव आने वाले पैसेंजर होम आइसोलेट में रहने के लिए ज्यादा इच्छुक दिखते हैं।

पुणे स्पेशल से जाने वालों की संख्या कम

पुणे-भागलपुर के बीच चलाई जा रही पहली स्पेशल ट्रेन सोमवार को भागलपुर पहुंची। पुणे से भी ट्रेन की लगभग सभी कोच खाली थे। देर रात भागलपुर से पुणे के लिए खुली एक्सप्रेस भी खाली ही गुजर गई। पांच फीसद यात्री भी इस ट्रेन से सफर नहीं किए। 

Edited By Abhishek Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept