भागलपुर : ...और आखों से छलक आएं आंसू, कार्यक्रम मौजूद थे बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन

बिहार स्पन सिल्क मिल के कर्मचारियों को लंबित वेतन एवं सेवांत लाभ का भुगतान हुआ। जुबां पर आई अपनों को खो देने की कहानी। इस दौरान भागलपुर के कार्यक्रम मौजूद थे बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन।

Dilip Kumar ShuklaPublish: Sun, 23 Jan 2022 10:59 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 10:59 PM (IST)
भागलपुर : ...और आखों से छलक आएं आंसू, कार्यक्रम मौजूद थे बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन

जागरण संवाददाता, भागलपुर। रेशम भवन भागलपुर के सभागार में रविवार को जीवन के कई रंग दिखे। कहीं सकारात्मक बदलाव की उम्मीदें परवान चढ़ते दिखी, तो कहीं निराशा के भंवर से बाहर निकल आने की खुशी भी। मौका था बिहार स्पन सिल्क मिल के कर्मचारियों के 25 वर्ष लंबित वेतन एवं सेवांत लाभ के भुगतान का। स्पन सिल्क मिल के 352 कर्मचारियों के खाते में आरटीजीएस के माध्यम से 15.60 करोड़ रुपये भेजी गई। कार्यक्रम में उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने सांकेतिक रूप से 30 कर्मचारियों को चेक भेंट किया। चेक लेने से पहले ही नमिता देवी भावुक हो उठी। नमिता देवी ने कहा कि मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि इतने वर्ष बाद बकाया राशि मिलेगी। मंत्री जी के प्रयास से राशि मिल गई। ईश्वर उन पर कृपा बनाए रखे।

मु. शाहनवाज खान ने कहा कि स्पन सिल्क मिल बन जाने के बाद सभी कर्मी बेरोजगार हो गए। कर्मचारियों को कितनी आर्थिक तंगी झेलनी पड़ी, कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा, उसे शब्दों में बयां करना मुश्किल है। कर्मचारी अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा नहीं दे पाएं। पैसे के अभाव में कई कर्मचारियों की मौत हो गई। पैसे के अभाव में मैं अपने बीमार पुत्र का बेहतर इलाज नहीं करा पाया और उसकी मौत हो गई।

मंत्री जी ने वर्ष 2021 में वेतन भुगतान की दिशा में पहल किया। उस समय कर्मचारियों के छह महीने के बकाया राशि के रूप में 55 लाख का भुगतान किया गया। उस समय मंत्री जी ने कहा था- कर्मचारियों के बकाया एक एक पैसे का भुगतान कराया जाएगा। कई मंत्री आए, लेकिन किसी ने हमलोगों की सुध नहीं ली। शाहनवाज हुसैन के उद्योग मंत्री बनने के बाद हमलोगों की उम्मीद जगी। मुझे विश्वास है कि शेष बकाया राशि भी वो स्पन सिल्क मिल के कर्मचारियों का जल्द से जल्द भुगतान करेंगे।

मंत्री ने कहा कि बिहार स्पन सिल्क मिल के बकाया वेतन के भुगतान के लिए करीब 42 करोड़ रुपए दिए जाने हैं। जिनमें से 16 करोड़ से ज्यादा की रकम दो किश्तों में वितरित की गई है। झारखंड सरकार के पास बिहार का 58 करोड़ रुपये बकाया है। झारखंड से राशि प्राप्त होते ही मिल के कर्मचारियों के सभी बकाये राशि का भुगतान कर दिया जाएगा। भागलपुर के लोदीपुर में बुनकरों के लिए एक क्लस्टर पहले से ही स्वीकृत हैं। 10 करोड़ की लागत से अन्य कई क्लस्टर भी जल्द शुरू किए जाएंगे। शाहजंगी तालाब में नौका बिहार की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के प्रशिक्षित लाभुकों के बीच प्रमाण पत्र का भी वितरण किया गया। मंत्री के हाथों प्रमाण पत्र पा कर लाभुक गदगद दिखे। युवाओं ने कहा कि अब हमलोग उद्यमी बन बेरोजगारी दूर करने में योगदान देंगे। कार्यक्रम में भागलपुर सदर के विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन से भागलपुर को बड़ी उम्मीद है और वह सिल्क नगरी को आगे बढ़ाने का काम करेंगे।

शाहनवाज हुसैन का आइएमए ने किया सम्मान

आइएमए के पदाधिकारियों ने रविवार को उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन का सम्मान किया। शाहनवाज हुसैन ने आइएमए के पुराने भवन के जीर्णोद्धर के लिए भी आश्वासन दिया। आइएमए अध्यक्ष डा. संदीप लाल ने कहा कि शाहनवाज हुसैन जब सांसद थे, सांसद निधि फंड से 25 लाख की राशि दी गई थी। इस राशि से आइएमए का नया भवन का निर्माण किया गया था, इसलिए भी समारोह कर उनका सम्मान किया गया। मंत्री बनने के बाद पहली बाद आइएमए द्वारा उनका सम्मान किया गया। मंच संचालन आइएमए की सचिव डा. वसुंधरा लाल ने किया। इस अवसर पर डा. एके पाण्डेय, डा. एसएन झा, डा. डीपी सिहं, डा. हेम शंकर शर्मा, डा. संजय सिंह, डा. प्रतिभा सिंह, डा. बिहारी लाल एवं अन्य चिकित्सक उपस्थित थे।

Edited By Dilip Kumar Shukla

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept