लवली आनंद का ऐलान- 23 अप्रैल को होगी सिंह सिंह गर्जना रैली, आंनद मोहन की रिहाई के लिए सदन से सड़क तक होगा संषर्घ

Bihar Politics आनंद मोहन की र‍िहाई को लेकर अब सियासत गरमाने लगी है। पूर्व सांसद और उनकी पत्‍नी लवली आनंद ने कहा है कि उनकी र‍िहाई के लिए सदन से सड़क तक संघर्ष होगा। इसके लिए 23 अप्रैल को सिंह गर्जना रैली का आयोजन किया जाएगा।

Abhishek KumarPublish: Mon, 24 Jan 2022 06:04 AM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 06:04 AM (IST)
लवली आनंद का ऐलान- 23 अप्रैल को होगी सिंह सिंह गर्जना रैली, आंनद मोहन की रिहाई के लिए सदन से सड़क तक होगा संषर्घ

संस,सहरसा। Bihar Politics: बिहार का बच्चा-बच्चा अवगत है कि डीएम जी कृष्णैया मामले (DM G Krishnaiah case) में पूर्व सांसद आनंद मोहन (Former MP Anand Mohan) पूरी तरह निर्दोष हैं। बिहार का कोई ऐसा नेता नहीं बचे हैं जो समय-समय पर इस सच्चाई का बयान नहीं किया हो। स्वयं सीएम नीतीश कुमार भी कई बार उन्हें निर्दोष बताते हुए सार्वजनिक मंचों से उनकी रिहाई की घोषणा कर चुके हैं।

गत दिन विधायक चेतन आनंद (MLA Chetan Anand) सहित प्रतिपक्ष के दो दर्जन से अधिक विधायकों द्वारा बिहार विधान सभा में इस मामले में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाया गया, तो जवाब में पहली बार राज्य सरकार की मंशा स्पष्ट हो गई कि वह अब तक लोगों से लगातार झूठ बोल रही थी और गुमराह कर रही थी।

रविवार को अपने गंगजला आवास पर संवाददाता सम्मेलन में पूर्व सांसद लवली आनंद (Former MP Lovely Anand) यह बातें कही। उन्होंने कहा कि अन्यायपूर्ण साजिश के विरुद्ध तीन मोर्चो पर संघर्ष का निर्णय लिया है। सदन और सड़क तक मामला उठाया जाएगा। जबकि कोर्ट के स्तर पर हमारी तैयारियां चल ही रही है। उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप पुण्यतिथि पखवाड़ा 29 जनवरी को पटना में पूर्व घोषित ''सिंह गर्जना रैली'' (singh garjana rally) तय था।

देशभर में उभरे आक्रोश से घबराई राज्य सरकार ने कोरोना के बहाने पहले तो रात्रि कर्फ्यू को छह फरवरी तक बढ़ा दिया इन सरकारी साजिशों से न तो हमारे संकल्प टूटने वाले हैं और न ही हमारे इरादे डगमगाने वाले हैं। सिंह गर्जना रैली पटना में कुंवर सिंह विजयोत्सव दिवस पर 23 अप्रैल को होगी। उनके कनिष्ठ पुत्र अंशुमन मोहन ने कहा कि उच्च शिक्षा के लिए पिछले साल से इंग्लैंड रह रहा हूं। पापा के साथ हुई नाइंसाफी के खिलाफ संघर्ष में साथ देने आया हूं। पापा के साथ हो रहे अन्याय और वादा खिलाफी पर मैं चुप नहीं बैठूंगा। परिहार के मामले में प्रभारी गृहमंत्री विजेंद्र यादव ने सदन में झूठ बोल कर लोगों को गुमराह किया है।

Edited By Abhishek Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept