This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Bihar Panchayat Election 2021: ईवीएम लाने अरुणाचल प्रदेश शीघ्र रवाना होंगे भागलपुर के अधिकारी, इस तरह हो रही है तैयारी

Bihar Panchayat Election 2021 भागलपुर में पंचायत चुनाव की प्रशासनिक तैयारी शुरू कर दी गई है। 15 दिनों में भागलपुर पहुंच जाएगा ईवीएम। 19 जिलों से आएगी मशीन 15 जुलाई तक आयोग ने कहा है लाने के लिए।

Dilip Kumar ShuklaWed, 30 Jun 2021 09:52 AM (IST)
Bihar Panchayat Election 2021: ईवीएम लाने अरुणाचल प्रदेश शीघ्र रवाना होंगे भागलपुर के अधिकारी, इस तरह हो रही है तैयारी

जागरण संवाददाता, भागलपुर। Bihar Panchayat Election 2021: पंचायत चुनाव को लेकर 15 दिनों में भागलपुर ईवीएम पहुंच जाएगा। पंचायत चुनाव एमटू ईवीएम से कराया जाएगा। भागलपुर जिले में होने वाले मतदान के लिए एमटू ईवीएम अरुणाचल प्रदेश के 19 जिलों से लाया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा अरुणाचल प्रदेश से एमटू ईवीएम को 15 जुलाई तक जिले में लाने का आदेश दिया गया है। इसके लिए यहां के अधिकारियों ने अरुणाचल प्रदेश के अधिकारियों से संपर्क साधना शुरू कर दिया है। अगले सप्ताह ईवीएम लाने के लिए दर्जनभर अधिकारी अरुणाचल प्रदेश के लिए रवाना हो जाएंगे। अरुणाचल प्रदेश के कई जिलों में लाकडाउन रहने की वजह से अधिकारी परेशान हैं। एमटू ईवीएम सिंगल पोस्ट ईवीएम है। एक एमटू ईवीएम में एक पद का चुनाव होगा। छह पदों के लिए अलग-अलग एमटू ईवीएम का उपयोग होगा। मतदान केंद्र पर एक साथ छह सेट ईवीएम लगेंगे।

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले में पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू कर दी गई है। एमटू ईवीएम की प्राप्ति, परिवहन, भंडारण, सुरक्षा, वितरण के लिए जिला निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा ईवीएम कोषांग का गठन कर दिया गया। जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी अरुण कुमार सिंह को ईवीएम कोषांग का वरीय पदाधिकारी बनाया गया है। वरीय उप समाहर्ता मृत्युंजय कुमार को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है। जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी श्वेता कुमारी को भी ईवीएम कोषांग में रखा गया है।

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार योजना के अनुसार जिले में अधिकतम 10 चरणों में चुनाव संपन्न किए जाएंगे। प्रत्येक चरण में मतदान के दूसरे दिन मतगणना होगी। मतगणना के बाद एमटू ईवीएम का उपयोग अगले चरण के मतदान में होगा। जिला स्तर एमटू ईवीएम का दो सेट और सुरक्षाकर्मी का एक सेट तैयार होगा। प्रथम चरण में उपयोग किए गए एमटू ईवीएम का उपयोग तीसरे, पांचवें सातवें एवं नवें चरण में होगा। दूसरे चरण के एमटू ईवीएम का उपयोग चौथे, छठे, आठवें और दसवें चरण में होगा। ऐसे में दो चरणों के बीच 15 दिन का अंतराल रखा गया है। मतदान के लिए चरण का निर्धारण एमटू ईवीएम काॢमकों एवं सुरक्षा बलों की उपलब्धता के आधार पर किया जाएगा। प्रखंडों को चरणबद्ध करते हुए वहां की भौगोलिक स्थिति पर ध्यान दिया जाएगा। कूल एमटू ईवीएम का सीयू 14 फीसद और बीयू पांच फीसद रिजर्व में रखा जाएगा। इस बार पंचायत चुनाव में मतदान दल में काॢमकों की संख्या चार से बढ़कर छह हो जाएगी। ईवीएम से मतदान प्रक्रिया के संचालन में एक पीठासीन पदाधिकारी और तीन मतदान पदाधिकारी का दल गठित किया जाता है। इस बार एक मतदान केंद्र पर छह सीयू और छह बीयू को संचालित करना है। इसलिए दो अन्य पदाधिकारी को इस प्रक्रिया में लगाना होगा। इसके साथ ही मतदान केंद्रों पर एक पीसीसीपी की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। प्रत्येक पंचायत में एक सेक्टर मजिस्ट्रेट प्रतिनियुक्त किए जाएंगे।

Edited By: Dilip Kumar Shukla

भागलपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner