गांधी मैदान में होगा गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह

जिला मुख्यालय स्थित गांधी मैदान में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह होगा। यहां नौ बजे सुबह डीएम सौरभ जोरवाल झंडोत्तोलन करेंगे। झंडोत्तोलन के पूर्व तिरंगे को सलामी देंगे और परेड का निरीक्षण करेंगे। 9.17 बजे परेड का समापन होगा।

JagranPublish: Tue, 25 Jan 2022 11:47 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 11:47 PM (IST)
गांधी मैदान में होगा गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह

जागरण संवाददाता, औरंगाबाद : जिला मुख्यालय स्थित गांधी मैदान में गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह होगा। यहां नौ बजे सुबह डीएम सौरभ जोरवाल झंडोत्तोलन करेंगे। झंडोत्तोलन के पूर्व तिरंगे को सलामी देंगे और परेड का निरीक्षण करेंगे। 9.17 बजे परेड का समापन होगा। यहां के बाद डीएम समाहरणालय में झंडोत्तोलन करेंगे। समाहरणालय परिसर में स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, भीम राव अंबेडकर, शहीद जगतपति की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गणतंत्र दिवस सादगी से मनाने का निर्णय लिया गया है। समारोह में शामिल होने वाले सभी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। शारीरिक दूरी का पालन किया जाएगा। किसी को भी या परिवार में किसी को कोरोना का लक्षण जैसे सर्दी, खांसी, बुखार हो तो वे समारोह में शामिल नहीं होंगे। सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी कृष्ण कुमार के अनुसार कोरोना को देखते हुए गणतंत्र दिवस समारोह में स्वतंत्रता सेनानी एवं वरिष्ठ नागरिकों को आमंत्रित नहीं किया गया है। एनसीसी एवं स्काउट गाइड के द्वारा परेड का आयोजन नहीं होगा। बताया गया कि महादलित टोला में विभिन्न पदाधिकारियों द्वारा झंडोत्तोलन किया जाएगा। झंडोत्तोलन को लेकर गांधी मैदान में सभी तैयारी कर ली गई है।

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर तिरंगा यात्रा

जागरण संवाददाता, औरंगाबाद : पैगाम ए इंसानियत के बैनर तले मुस्लिम समुदाय के सदस्यों ने शहर में गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर तिरंगा यात्रा के साथ सद्भावना मार्च निकाला। अध्यक्ष मो. शाहनवाज रहमान उर्फ सल्लू खान, वार्ड पार्षद सिकंदर हयात, धर्मगुरु मौलाना मुफ्ती अफसर रजा कादरी, मौलाना मो. कुदूस कादरी, मो. तुफैल कादरी, मौलाना मुंतजीर कादरी, मो. जुल्फिकार के नेतृत्व में यात्रा निकाली गई। हिदुस्तान जिदाबाद के नारे लगा रहे थे। सभी ने एक स्वर से कहा कि गणतंत्र दिवस के मौके पर पूरा भारत देश भक्ति के रंग में डूबा है। देश के लिए अपना जीवन बलिदान करने वाले शहीदों के स्वजन को आर्थिक मदद किया जाएगा। संविधान का पालन करें और संविधान के नियम का उल्लंघन न करें। शारीरिक दूरी का पालन करें। मो. रइस, मो. राशिद, मो. कमाल, टिक्का खान, अमन खान, मो. वारिस, मो. जीशान, मो. अयूब, मो. परवेज, मो. ग्यासुद्दीन, मो. बिलाल, मो. अकबर, निजामुद्दीन खान, जरीन खान, जसीम अंसारी, मो. आसिफ, मो. वारिस, अब्बास अली खान, सैफ अली खान, सैफ अली खान उपस्थित रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept