इकोनोमिक कोरिडोर के तहत हो रहा जीटी रोड का सिक्सलेन कार्य

जिले में करीब छह वर्षों से बंद पड़ा जीटी रोड का सिक्सलेन कार्य प्रारंभ हो गया है। बारुण से लेकर मदनपुर तक करीब 50 किमी में निर्माण कार्य शुरू किया गया है।

JagranPublish: Mon, 16 May 2022 11:26 PM (IST)Updated: Mon, 16 May 2022 11:26 PM (IST)
इकोनोमिक कोरिडोर के तहत हो रहा जीटी रोड का सिक्सलेन कार्य

जागरण संवाददाता, औरंगाबाद : जिले में करीब छह वर्षों से बंद पड़ा जीटी रोड का सिक्सलेन कार्य प्रारंभ हो गया है। बारुण से लेकर मदनपुर तक करीब 50 किमी में निर्माण कार्य शुरू किया गया है। दिसंबर 2023 तक कार्य को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। सड़क निर्माण कंपनी के एक अधिकारी ने बताया कि दो दिन पहले आरा के कोइलवर पुल के उद्घाटन समारोह में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा की है। इस सड़क को केंद्रीय मंत्री ने इकोनोमिक कोरिडोर के रूप में विकसित करने की घोषणा की है। मंत्री के घोषणा के तहत इसे इकोनोमिक कोरिडोर के रूप में निर्माण कराया जा रहा है। सड़क के निर्माण से उद्योग धंधे लगेंगे और मालवाहक वाहनों के लिए यह इकोनोमिक कोरिडोर महत्वपूर्ण होगा। औद्योगिक विकास में यह सड़क सहायक सिद्ध होगा। करीब पांच हजार करोड़ की लागत से इस सड़क का निर्माण वाराणसी से झारखंड के धनबाद तक होगा। अभी चोरदाहा तक निर्माण कराया जा रहा है। वर्तमान में सड़क का निर्माण सिक्सलेन कराया जा रहा है पर जमीन का अधिग्रहण आठ लेन के लिए किया गया है। अबतक दो कंपनी छोड़ चुकी है काम

जीटी रोड का सिक्सलेन कार्य वर्ष 2016 में शुरू हुई थी तब सीएंडसी आइसोलक्स कंपनी कार्य कराने का जिम्मा ली थी। यह कंपनी बीच में ही निर्माण कार्य छोड़कर यहां से चली गई। तब वाराणसी के तरफ सिक्सलेन का कार्य करा रही सोमा कंपनी को एनएचएआइ के द्वारा कार्य को पूरा कराने का जिम्मा दिया गया। यह कंपनी भी कार्य को पूरा किए बिना यहां से काम छोड़ चली गई। कंपनी अपनी कैंप में करोड़ों का सामान छोड़कर यहां से चली गई। कंपनी के चले जाने के बाद कामा बिगहा स्थित कैंप से कंपनी के 16 हाइवा, मशीन, समेत करीब एक सौ करोड़ की सामान की चोरी कर ली गई। मुफस्सिल एवं नगर थाना में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई पर चोरी के इस बड़े मामले को पुलिस ने फाइलों में दबा दिया। लाखों रुपये का लेनदेन हुआ। वाराणसी से कोलकाता तक एक्सप्रेसवे के लिए जमीन का सर्वे शुरू

जिले के लोगों को सिक्सलेन जीटी रोड के अलावा वाराणसी से कोलकाता तक बनने वाली ग्रिनफिल्ड एक्सप्रेसवे की सौगात मिली है। एनएचएआइ के एक अधिकारी ने बताया कि इस एक्सप्रेसवे के लिए डीपीआर फाइनल हो रहा है। जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई जल्द शुरू होगी। यह एक्सप्रेसवे इस जिले में नवीनगर, कुटुंबा एवं देव प्रखंड से होकर गुजरेगी। करीब 30 हजार करोड़ की लागत से इसका निर्माण कराया जा रहा है। अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी इस एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य पूरा कराने के प्रति गंभीर हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept