भीषण गर्मी : तप रही धरती, तड़प रहे लोग

इन दिनों भीषण गर्मी से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। 10 बजते ही सड़कों पर सन्नाटा छा जाता है।

JagranPublish: Mon, 16 May 2022 11:25 PM (IST)Updated: Mon, 16 May 2022 11:25 PM (IST)
भीषण गर्मी : तप रही धरती, तड़प रहे लोग

जागरण संवाददाता, औरंगाबाद : इन दिनों भीषण गर्मी से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। 10 बजते ही सड़कों पर सन्नाटा छा जाता है। आदमी के साथ भीषण गर्मी में जानवर भी बेहाल हैं। जानवर प्यास बुझाने के लिए पानी की तलाश में इधर-उधर भटकते नजर आते हैं। चिलचिलाती गर्मी ने जनजीवन प्रभावित किया है। लोग दिनभर गर्मी में पसीने से तर-बतर होकर झुलसने को मजबूर हैं। तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सोमवार को अधिकतम तापमान 45 डिग्री तापमान अंकित की गई है। ऐसा प्रतीत हो रहा जैसे आसमान से आग बरस रहा है। तापमान में लगातार हो रही वृद्धि ने लोगों को झुलसा दिया है। गर्मी ने प्रचंड रूप धारण कर लिया है। गर्मी इतनी अधिक पड़ रही है कि लोग अपने घरों से निकलने में परहेज करने लगे हैं। साथ ही दिन के समय चलने वाली लू ने लोगों की परेशानी को बढ़ा दिया है। चल रही गर्म हवाओं के कारण लोगों का शरीर झुलस रहा है। लोग पूरे शरीर को कपड़ों से ढककर घरों से निकलने को मजबूर हैं। गर्मी का प्रकोप बढ़ने के साथ ही दिन के समय शहर व गावों की सड़क व गलियां सुनसान हो जाती हैं। गलियों में इक्का-दुक्का लोग ही नजर आते हैं। लोग घरों से निकलने में परहेज करने लगे हैं। दिन के समय मार्केट में दुकानदार ग्राहकों का इंतजार करने को मजबूर हैं। वहीं भीषण गर्मी व तेज गति से चल रही गर्म हवाओं में सबसे अधिक परेशानी दुपहिया वाहन चालकों को आ रही हैं। ठंडे पेय पदार्थ के दुकानों पर भीड़

शहर में बढ़ती गर्मी के कारण ठंडे पेय पदार्थ दुकानों पर भीड़ लग रही है। आम जूस से लेकर कोल्डड्रिक की बिक्री बढ़ गई है। रमेश चौक पर आम जूस पी रहे न्यू एरिया निवासी सौरभ कुमार एवं प्रदीप कुमार ने बताया कि गर्मी बढ़ गई है। ऐसा लग रहा है जैसे चेहरा जल रहा है। घर से निकलने के लिए हिम्मत नहीं कर रहा है। बाजार में घर का जरूरी काम होने के कारण निकलना पड़ रहा है। बिजली भी कर रही है आंख मिचौली

गर्मी के अलावा लोग बिजली की कटौती से परेशान हैं। बिजली की आंख मिचौली प्रतिदिन की बात हो गई है। दिन में तीन से चार बार बिजली कट रही है। दुकानों पर दुकानदार ग्राहकों का इंतजार करते नजर आते हैं। तपती गर्मी से दिहाड़ी मजदूरों, विद्यार्थियों व सड़क किनारे दुकान लगाने वालों को सबसे ज्यादा परेशानी उठानी पड़ रही है। गर्मी की तपती घूप में शहर की सड़कें वीरान और सरकारी कार्यालयों में सन्नाटा पसर जाता है। अस्पताल में मरीज हैं परेशान

सदर अस्पताल के करीब सभी वार्ड में मरीजों के लिए एसी है परंतु प्रसव कक्ष में महिलाएं गर्मी से तड़प रही है। यहां एक भी एसी नहीं लगाया गया है। मरीजों ने बताया कि छत में पंखा से गर्म हवा आ रही है। बता दें कि यहां के विभागीय अधिकारी एसी में आराम करते हैं परंतु मरीजों को सुविधा नहीं दी जा रही है। सूख रहा हलक, नहीं मिल रहा शीतल जल

प्रचंड गर्मी में लोगों का हलक सूख रहा है परंतु शीतल जल नहीं मिल पा रहा है। कहीं भी पेयजल की व्यवस्था नहीं की गई है। खासकर परेशानी ग्रामीण क्षेत्र से शहर पहुंचने वाले लोगों को हो रही है। घर से पानी लेकर तो पहुंच रहे हैं परंतु उनका बोतल का पानी गर्म हो रहा है। यह पानी पीने योग्य नहीं रह रहा है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept