जयंती पर कर्पूरी ठाकुर आश्रम का शिलान्यास

जाटी अररिया शहर स्थितशिवपुरी मुहल्ला में सोमवार को नाई समाज के लोगों ने जननायक कर्पूरी जयंती मनाई। इस अवसर पर नाई समाज के लोगों ने भाग लिया।

JagranPublish: Mon, 24 Jan 2022 09:21 PM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 09:21 PM (IST)
जयंती पर कर्पूरी ठाकुर 
आश्रम का शिलान्यास

जाटी, अररिया : शहर स्थितशिवपुरी मुहल्ला में सोमवार को नाई समाज के लोगों ने जननायक कर्पूरी जयंती मनाई। इस अवसर पर नाई समाज के लोगों ने भाग लिया। इस दौरान जयंती के मौके पर कपूरी ठाकुर आश्रम का शिलान्यास जिप अध्यक्ष पप्पू अजीम द्वारा किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता नाई संघ के जिलाध्यक्ष अरुण कुमार ठाकुर ने की। नाई समाज के लोगों ने जननायक कर्पूरी ठाकुर के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। जिप अध्यक्ष ने बताया कि जन नायक कर्पूरी ठाकुर नाई परिवार में जन्म लिये लेकिन सिर्फ जाति के लिए नहीं बल्कि सभी दबे कुचले लोगों के उत्थान के लिए हमेशा काम करते रहे। वही एडीएम अनील ठाकुर कहा कि जननायक स्व कर्पूरी ठाकुर ने शिक्षा पर बल दे कर मैट्रिक तक फीस माफ करवाये थे। शोषित व वंचित समाज नाई को अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग भारत सरकार से किया था जो अब तक पुरा नहीं किया गया है। नाई संघ के जिलाध्यक्ष अरुण कुमार ठाकुर ने कहा कि हमलोग आरक्षण के खिलाफ नहीं है, लेकिन नाई समाज अभी भी बहुत पिछड़ा है। नाई संघ के जिला सचिव शिव शंकर ठाकुर ने कहा कि नाई समाज की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। इस कारण नाई समाज को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें आरक्षण के माध्यम से आगे बढ़ाया जा सकता है। इसलिए नाई जातियों अनुसूचित जाति में शामिल करें व जननायक को भारत रत्न से सम्मानित करें ऐसा नहीं होने पर संघ द्वारा चरणबद्ध आंदोलन भी करने के लिए तैयार है। मनोज ठाकुर व सोहन लाल ठाकुर कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर ने सभी लोगों के लिए ध्यान देते थे।

मौके पर कार्यकारणी अध्यक्ष गुड्डू ठाकुर, दीपक ठाकुर , वीरू ठाकुर, डॉ बिना ठाकुर,कृष्णा ठाकुर, गणेश ठाकुर,कृत्यानंद ठाकुर, मोहन ठाकुर, देबू सेन,बृजमोहन ठाकुर, वीरू ठाकुर, मनोज ठाकुर ,रंजीत ठाकुर, कन्हैया लाल भरत लाल ऋषिदेव, सब्यसाची सेन आदि मौजूद थे।

वहीं जिला जनता दल यूनाइटेड के द्वारा पार्टी के प्रवक्ता सुनील चंद्रवंशी के आवास पर महान स्वतंत्रता सेनानी,शिक्षक,जन जन के नेता, दलित, शोषित एवं ग़रीबों के मसीहा, पूर्व मुख्यमंत्री जननायक स्व कर्पूरी ठाकुर जी की जयंती मनाई गई। जनजन के नेता स्वर्गीय जननायक का सपना था कि समाज के अंतिम व्यक्ति का भी सामाजिक शैक्षणिक और राजनीतिक विकास हो। जयंती समारोह में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए स्वर्गीय जननायक के तैल चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित किए। मौके पर अररिया जिला जनता दल-यू के जिला अध्यक्ष आशीष पटेल, जिला उपाध्यक्ष रेशम लाल पासवान, जिला प्रवक्ता सुनील चंद्रवंशी, जिला महासचिव सीताराम मंडल, सफा उर रहमान उर्फ लड्डू, जिला उपाध्यक्ष शमशुल हक़, जिला सचिव उमेश पासवान व मुन्ना सिंह, नगर अध्यक्ष जोगबनी रामजी सिंह, उमेश चंद्र राय, नगर अध्यक्ष अररिया नंद मोहन मिश्र के अलावे दर्जनों जदयू कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

संसू, पलासी (अररिया): पलासी प्रखंड मुख्यालय स्थित जदयू कार्यालय में सोमवार को कर्पूरी जी की जयंती मनाई गयी। जिसमें जदयू व भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इस अवसर पर जदयू प्रखंड अध्यक्ष सदानंद मंडल व भाजपा प्रखंड अध्यक्ष जगन्नाथ झा, इमरान अजीम, शाद आलम, विजेन्द्र साह, बिहारी ठाकुर आदि ने उनके तैलचित्र पर माल्यार्पण करते हुए उनके जीवन चरित्र पर विस्तार से चर्चा की।

संसू भरगामा के अनुसार भरगामा प्रखंड स्थित रेणु साहित्य मंच परिसर में पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की 98वीं जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। कार्यक्रम का आयोजन कर्पूरी विचार मंच के द्वारा किया गया। समारोह की अध्यक्षता अजय अकेला ने की। जयंती का आगाज कर्पूरी के तैल्य चित्र पर पुष्पांजलि के पश्चात सामूहिक द्वीप प्रज्ज्वलित कर किया गया ।

मौके पर पूर्व जिला पार्षद सत्य नारायण यादव ने कहा श्रद्धेय कर्पूरी ठाकुर गरीबों के मसीहा और एक ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ राजनेता थे। समाजसेवी गया नंद सिंह ने उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि वह जनमानस के नेता थे और जिदगी के आखिरी क्षण तक समतामूलक समाज निर्माण की लड़ाई लड़ते रहे। जेपी आंदोलन के सेनानी नागेश्वर कमल ने कहा कर्पूरी जी ने समाज के आखिरी पायदान पर खड़े लोगों की जिदगी में खुशहाली लाने का अनवरत संघर्ष किया। अधिवक्ता मनीष कुमार सिंह ने बताया --कर्पूरी ठाकुर एक ऐसे राजनेता का नाम है जिन्होंने अपने परिवार के लिए कोई संपत्ति अर्जित नहीं की। अजय अकेला ने कर्पूरी जी के आदर्श जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि वे एक ऐसे जननायक थे, जिनको बिहार के चप्पे-चप्पे का न सिर्फ अनुभव था बल्कि हर गांव, घर की धूल और धूँँआ का भी पता था। समारोह में संत भुवनेश्वर दास, शशिकांत मिश्र, बासुदेव ठाकुर, रामकृष्ण मेहता, खेला नंद मेहता, प्रधानाचार्य विद्यानंद यादव, दिनेश यादव, पृथ्वी मंडल, वार्ड सदस्य संजय मंडल, ललन पासवान, उपेंद्र मेहता, फूल कुमार राम, सयानंद पासवान के अलावे सुमन ठाकुर भावेश ठाकुर ,चुन चुन, नवीन समेत रेणु कोचिग के छात्रों ने भी अपनी श्रद्धांजलि निवेदित किया।

संसू.,-परवाहा(अररिया): फारबिसगंज प्रखंड के परवाहा में जननायक कर्पूरी ठाकुर की 98 वीं जयंती मनाई गई। इस दौरान उपस्थित लोगों ने उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि कर्पूरी ठाकुर ने बिहार और उत्तर भारत की राजनीति में ऐसी लकीर खींच दी है, जिसे छोटा कर पाना किसी के लिए संभव नहीं हुआ। गरीबों और वंचितों के लिए उन्होंने जो किया, वह एक अप्रतिम मिसाल है। मौके पर बिरेंद्र ठाकुर, प्रकाश ठाकुर, आशीष ठाकुर, अमित मण्डल ,पिटू ऋषिदेव ,राजा राम मनीष ठाकुर, सुबोद ठाकुर, सन्तोष ठाकुर आदि मौजूद थे।

संसू सिकटी, (अररिया): बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री, स्वतंत्रता सेनानी जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयंती ग्रामीण क्षेत्रों में श्रद्धापूर्वक समारोह आयोजित कर मनाई गई। इसी क्रम में जदयू कार्यकर्ताओं ने सिकटी प्रखंड के भुतहा में जदयू अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के महासचिव घनश्याम मंडल के आवास पर कर्पूरी ठाकुर की जयंती मनाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जदयू के प्रखंड अध्यक्ष नरेश राय ने किया। इस दौरान उनके प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई। आगंतुक द्वारा उनकी जीवनी पर प्रकाश डाला गया और उनके दिखाए आदर्श पर चलने की शपथ ली गई। मौके पर प्रखंड अध्यक्ष ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर काफी लोकप्रिय और सच्चे व्यक्ति थे। हम सभी को उनके पद चिन्हों पर चलने की जरूरत है। मौके पर रश्मि कुमारी, इश ना पंडित, समीना खातुन, मो जमील, सुधीर कुमार राय आदि मौजूद थे।

संसू.रानीगंज(अररिया) :मुख्यालय स्थित राजद कार्यलय में सोमवार को राजद कार्यकर्ताओं ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर का 98 वीं जयंती मनाई गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजद प्रखंड अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह ने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर एक राजनीतिक योद्धा थे जिसने अपमान का घूंट पीकर भी बदलाव की इबारत लिखी। वे भारत के स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षक, राजनीतिज्ञ तथा बिहार के दूसरे उपमुख्यमंत्री तथ दो बार मुख्यमंत्री रह कर इतने लोकप्रिय थे इसीलिए उसे जननायक कहा जाता था। मौके पर पूर्व मुखिया सुभाषचंद्र सिंह, सौरभ राणा, गुड्डू यादव, हरिनंदन सिंह, मणिकांत मंडल, बिरजू कुमार सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept